तीन तलाक देकर पति ने हलाला के नाम पर ससुर से कराया बलात्कार|POPxo Hindi | POPxo
Home  >;  Lifestyle  >;  Astro World
पति के तीन तलाक देने के बाद निकाह हलाला के नाम पर ससुर ने किया बलात्कार

पति के तीन तलाक देने के बाद निकाह हलाला के नाम पर ससुर ने किया बलात्कार

एक महिला ने अपने पति और ससुर के खिलाफ एक रिपोर्ट दर्ज करके आरोप लगाया है कि उसके पति ने उसे कई बार तीन तलाक देकर दोबारा शादी के लिए हलाला के नाम पर ससुर समेत अनेक लोगों के साथ अप्राकृतिक संबंध बनाने के लिए मजबूर किया। महिला की इस शिकायत पर पुलिस ने बलात्कार के आरोप में उसके पति और परिवार के दूसरे सदस्यों को गिरफ्तार कर लिया है।


उत्‍तर प्रदेश के बरेली शहर में एक व्‍यक्ति, उसके पिता और परिवार के अन्‍य सदस्‍यों पर पुलिस ने निकाह हलाला के नाम पर अप्राकृतिक संबंध बनाने के लिए रेप समेत कई संगीन धाराओं में मामला दर्ज किया है। पुलिस ने इस महिला के ससुर के खिलाफ बलात्कार और पति पर अप्राकृतिक सेक्‍स का मामला दर्ज किया है। महिला ने आरोप लगाया था कि उसके पति ने उसे कई बार तीन तलाक दिया और निकाह हलाला के नाम पर ससुर ने कई बार उसके साथ बलात्कार किया।


Women in veil


महिला का कहना है कि उसकी शादी जुलाई 2009 में ड्राइवर का काम करने वाले व्यक्ति से हुई थी, लेकिन बाद में बच्चे न होने पर उसके पति और परिवार के दूसरे सभी सदस्य उसे प्रताड़ित करने लगे। फरवरी 2011 में उसके पति ने उसे तीन तलाक दे दिया। इसके बाद उन्होंने इसे अपनी भूल बताते हुए वापस शादी करने के लिए जरूरी निकाह हलाला करने के लिए कहा। इससे इंकार करने पर ससुरालवालों ने उसकी पिटाई की और भूखा रखा। साथ ही उन्होंने न मानने पर उसे नशे के इंजेक्शन देने शुरू कर दिये।


बाद में जुलाई 2011 में उन्होंने मिलकर जबरदस्ती ससुर के साथ निकाह हलाला करवा दिया, जिसके चलते ससुर ने 10 दिन बाद तीन तलाक देने से पहले उसके साथ कई बार बलात्‍कार किया। नवंबर 2011 में उस महिला की शादी दोबारा उसके पति के साथ कर दी गई लेकिन उसका ससुर इसके बावजूद उसके साथ बलात्कार करता रहा। करीब छह साल बाद जनवरी 2017 में उसके पति ने उसे दोबारा तीन तलाक दे दिया।


Work Stress


इससे परेशान होकर पीड़ित महिला ने फरवरी 2017 में पुलिस में एक शिकायत दर्ज कराई लेकिन सामाजिक बदनामी के डर से उसमें बलात्कार का जिक्र नहीं किया। रिपोर्ट से डरकर इस बार उसके पति के परिवार ने कहा कि वह अपने देवर के साथ निकाह कर ले लेकिन महिला ने इससे इनकार कर दिया और इसके बाद से यह महिला अपनी छोटी बहन और उसकी बेटी के साथ रह रही है।  


इन्हें भी देखें -


3. पत्नी को शारीरिक संबंध बनाने के लिए पति से "ना" कहने का है पूरा अधिकार
4. अब छोड़ दें पति को ताना मारना, नहीं तो हो सकता है क्रूरता का मुकदमा
5. अब महिला अधिकारों के लिए लड़ाई लड़ेंगी तीन तलाक की पीड़िता इशरत जहां
7. सिर्फ सहमति न लेना ही नहीं है शादी की वैधता खत्म करने का आधार

Published on Jul 19, 2018
Like button
2 Likes
Save Button Save
Share Button
Share
Read More