दिव्यांका त्रिपाठी ने लिया मां दुर्गा का अवतार | POPxo Hindi | POPxo
Home  >;  Lifestyle  >;  Entertainment  >;  Celebrity gossip
दिव्यांका त्रिपाठी ने लिया मां दुर्गा का अवतार, कविता लिख कर महिलाओं पर कह डाली ये बड़ी बात

दिव्यांका त्रिपाठी ने लिया मां दुर्गा का अवतार, कविता लिख कर महिलाओं पर कह डाली ये बड़ी बात

टीवी एक्ट्रेस दिव्यांका त्रिपाठी हमेशा अपने फैंस के लिए कुछ न कुछ नया करती रहती हैं। यही वजह है कि इंस्टाग्राम पर उनके चाहने वालों की संख्या 88 लाख पार कर चुकी है। आपको बता दें कि सीरियल "ये है मोहब्बतें" की इशिमां इस बार बन गई हैं दुर्गा मां। इस रूप को धारण कर दिव्यांका त्रिपाठी अपने फैंस को मां दुर्गा की शक्तियों के बारे में भी बता रही हैं। दिव्यांका का ये रूप जल्द ही आपको स्टार परिवार अवॉर्ड्स में देखने को मिलेगा।


दिव्यांका ने दिखाया मां दुर्गा का तेज


लाल साड़ी, माथे पर गोल बिंदी, आंखो में बड़ा- बड़ा काजल, पैरों में आलता, सिर पर मुकुट, हाथ में त्रिशूल और चेहरे पर गुस्सा लिए मां दुर्गा के रूप में दिव्यांका त्रिपाठी सच में देवी का ही अवतार लग रही हैं। ये रूप उन्होंने स्टार परिवार अवॉर्ड्स में अपनी एक परफॉरमेंस के लिए धारण किया है। इसके ज़रिए दिव्यांका त्रिपाठी ने नारी शक्ति को दर्शाने की कोशिश की है। मानना पड़ेगा, दिव्यांका का ये अंदाज वाकई बेहद अलग और खूबसूरत है।   


Divyanaka-Tripathi-maa-durga-1


मां दुर्गा के रूप में दिया अद्भुत सन्देश


सिर्फ दुर्गा मां का रूप लेकर ही नहीं बल्कि अपनी पोस्ट पर एक कविता लिखकर दिव्यांका त्रिपाठी ने समाज को एक अद्भुत सन्देश देने की कोशिश की है। इस कविता के ज़रिए वह महिलाओं को उनके अंदर छिपी मां दुर्गा की शक्तियों के बारे में बता रही है। इस पोस्ट को शेयर करते हुए दिव्यांका ने लिखा है कि,


तू दुर्गा है, .


तो क्यों रोती है, क्यूं शिव तांडव की राह तकती है?


वो तुझ में है, .


तो क्यों सहती है, चुप क्यों रहती है?


तू धैर्यवान है, .


पर क्यों आत्मसम्मान को परे रखती है?


तेरी गौरी सी मुस्कान का मोल पाव भर लगता है अब.


और मुस्कुरा, तेरी आत्मीयता से चकरा जाएंगे वो.


तेरी निष्छलता का भाव शून्य सा लगता है अब.


और दे, बोझ तले दब जाएंगे वो.


तुझे उथला पानी समझ उछालना चाहते हैं वो.


तू गहराई कम ना कर... डूब जाएंगे वो....


हे दसभुजाधारी मां, नहीं हो सकती तू अबला!


शक्ति तेरे भीतर है, बस स्वयं को निरंतर याद दिला...


बस कर बिछना.


नहीं तू चरणों की धूल!


निरंतर प्रेम नहीं समझते


तो डर मत उठा त्रिशूल!


प्रेम, करुणा, दया की देवी है तू.


पर खो न जा इस दायित्व में,


जीवनदात्री है तो काली भी है तू!


नवरात्रि की शुभकामनाएं!


Divyanaka-Tripathi-maa-durga


आपको बता दें कि यह कविता खुद दिव्यांका त्रिपाठी ने लिखी है। कहना गलत नहीं होगा कि “मी टू” की तेज़ चल रही आंधी के बीच दिव्यांका का महिलाओं को दिया गया ये संदेश वाकई सराहनीय है।


इमेज सोर्सः Instagram


ये भी पढ़ें


सीरियल “ये है मोहब्बतें” में होगी इस फेमस किरदार की वापसी, दिव्यांका त्रिपाठी ने दी जानकारी


स्टार परिवार अवॉर्ड्स 2018: ज़मीं पर उतरे टीवी सितारे, इन दो सीरियल्स के नाम रही ये शानदार शाम


दिव्यांका त्रिपाठी ने शेयर की "नो फ़िल्टर" सेल्फ़ी, फैंस बोले नेचुरल ब्यूटी हो तो ऐसी


बंद होने जा रहा है सीरियल "ये है मोहब्बतें", अब इस नए शो में नज़र आएंगी दिव्यांका त्रिपाठी?


वीडियोः दिव्यांका त्रिपाठी ने अपनी मां के साथ लिया एशिया की सबसे लंबी ट्विन ज़िपलाइन का मज़ा

Published on Oct 16, 2018
Like button
1 Like
Save Button Save
Share Button
Share
Read More
Loading...