वेट लॉस टिप्स - weight loss tips in hindi | मोटापा घटाने के उपाय|POPxoHIndi | POPxo
Home  >;  Lifestyle  >;  Health & Fitness  >;  Fitness
मोटापा घटाने के लिए बेस्ट हैं ये बाबा रामदेव के घरेलू नुस्खे

मोटापा घटाने के लिए बेस्ट हैं ये बाबा रामदेव के घरेलू नुस्खे

भागदौड़ भरी जिंदगी में खुद के लिए समय निकालना थोड़ा मुश्किल है लेकिन नामुमकिन नहीं। क्योंकि शरीर से बढ़कर कुछ नहीं है। यूं तो शरीर पर थोड़ी बहुत चर्बी बुरी नहीं लगती, लेकिन ये बढ़ती है तो आपको खुद बता देती है कि बस, अब आपका वजन सीमा से बाहर जा रहा है। लेकिन इसका मतलब ये नहीं है कि आप कोशिश नहीं कर सकते हैं। अपने सेल्फ कॉन्फिडेंस को कभी कमजोर मत पड़ने दीजिए। क्योंकि यही आपको ताकत देगा आपका मनचाहा फिगर वापस पाने के लिए। यहां हम आपको वेट लॉस यानि कि मोटापे से जुड़ी हर वो छोड़ी- बड़ी बात बताने जा रहे हैं जो आपको वजन घटाने में मदद करेगी।


मोटापा क्या होता है ?


मोटापा (Obesity) वो स्थिति है, जब शरीर में जरूरत से ज्यादा वसा फैट यानि चर्बी के रूप में जमा होने लगता है। इससे सेहत पर बहुत बुरा असर पड़ता है। ये एक नहीं बल्कि अनेक बीमारियों को बुलावा देती है। एक जगह बैठे रहने, गलत लाइफस्टाइल अपनाने और कम फिजिकल वर्क करने वाले लोगों को मोटापा ज्यादा अपना शिकार बनाता है।


क्या आप वाकई मोटापे का शिकार हैं ?


अगर आपको लगता है कि आप का शरीर बेडौल होता जा रहा है, आप बहुत ही जल्दी थक जाते हैं, खुद को अनफिट महसूस करते हैं तो पूरी- पूरी आशंका है कि आप मोटापे का शिकार हो रहे हैं। वहीं दूसरी तरफ कामकाजी महिलाओं को तो इस बात का पता भी नहीं चल पाता कि वह ओवरवेट का शिकार हो रही हैं। मेडिकल साइंस की भी हमेशा से यहीं सलाह रही है कि ज्यादा वजन बढ़ना परेशानियों का सबब है। इसलिए इसे कंट्रोल में रखना जरूरी है। लेकिन, ये भी एक सच है कि ज्यादातर लोग मोटापे पर तभी गौर करते हैं, जब वे ओवरवेट हो जाते हैं। वैसे भी महिलाओं पर पुरुषों के मुकाबले मोटापे का ज्‍यादा असर पड़ता है। मोटापे का असर पुरुषों पर केवल शारीरिक ही होता है वहीं महिलाओं को ये समस्या शारीरिक और मानसिक दोनों ही रूपों में झेलनी पड़ती है।


महिलाएं और मोटापा


इस विषय में डॉ. सुष्मिता शाह बताती हैं कि ओवरवेट महिलाओं को दिल की बीमारी होने की आशंका होती है। छोटी उम्र से ही मोटापे से परेशान लड़कियों में अनियमित माहवारी की समस्‍या शुरू हो जाती है। इस कारण कम उम्र में ही महिलाओं में पॉलीसिस्टिक ओवरी और हार्मोनल असंतुलन के रूप में बुरे परिणाम दिखाई पड़ने लगते हैं। इससे उम्र बढ़ने के बाद बांझपन की समस्‍या भी हो सकती है। यही नहीं मोटापे का असर महिलाओं के दिमाग पर भी पड़ता है। वह ज्यादातर समय तनाव में रहती हैं। कई महिलाएं तो इस समस्या से पीड़ित होकर अवसाद तक में चली जाती हैं।


fast-weight-loss-tips-in-hindi


ऐसे करें मोटापे की जांच


मोटापा कोई बड़ी बीमारी नहीं है लेकिन एक स्वस्थ्य एवं सेहतमंद शरीर से विपरीत जाने की सीमा है। यदि इसे समय रहते जान लिया जाए तो इसके दुष्परिणामों को रोका जा सकता है। आप कितने फिट हैं इसको जानने के लिए सबसे अच्छा तरीका है बीएमआई (बॉडी मॉस इंडेक्स) निकालना। इसके जरिए ये जाना जा सकता है कि आप कितने फिट हैं और आपको कितना वजन कम करने की जरूरत है।


BMI (बी.एम. आई) क्या होता है ?


बॉडी मास इंडेक्स (बीएमआई) आपके शरीर के अनुपात से आपकी चर्बी कितनी ज्यादा हैं, इसका मापदंड हैं। बीएमआई व्यक्ति विशेष की लंबाई और वजन पर निर्भर करता है। किसी भी व्यक्ति की सेहत का शुरुआती जायजा लेने के लिए डॉक्टर उसके बॉडी मास इंडेक्स (बी एम आई) देख कर ही यह फैसला लेते हैं कि उसे अपना वजन और कम करने की जरूरत है या नहीं। इसके जरिए ये जाना जा सकता है कि आप कितने फिट हैं। उदाहरण के लिए भारतीय लोगों के लिए उनका बी.एम.आई 22.9 से अधिक नहीं होना चाहिए। ज्यादातर महिलाएं मोटापे पर तभी गौर करती हैं, जब वह ओवरवेट हो जाती हैं। इसलिए अपने खान-पान और दिनचर्या के साथ- साथ नियमित तौर से बीएमआई की जांच करते रहना चाहिए।


BMI (बी.एम. आई) चार्ट


बीएमआई (18.5 से कम)  ---- सामान्य से कम वजन


बीएमआई (18.5 - 24.9)   ---- सामान्य वजन


बीएमआई (25 - 29.9)     ----- अधिक वजन


बीएमआई (29.9 से ज्यादा) ---- मोटापा


ऐसे निकालें अपना बीएमआई (BMI)


बीएमआई को किसी व्यक्ति की लंबाई को दोगुना कर उसमें भार (किलोग्राम) से भाग देकर निकाला जाता है।


बॉडी मॉस इंडेक्स = वजन (कलो में)/ लंबाई (मीटर में) का स्क्वायर


उदाहरण के तौर पर -


मान लीजिए कि यदि आपका वजन 60 किलो है और लंबाई 160 सेंटीमीटर यानी 1.6 मीटर है तो बीएमआई होगी - 60/2.56= 23.4


कमर की चौड़ाई से भी पता कर सकते हैं कि आप ओवरवेट हैं कि नहीं ?


आप ओवरवेट है कि नहीं? इस सवाल का जवाब आप अपनी कमर की चौड़ाई से भी पता लगा सकते हैं।


सामान्य : 32 इंच से कम


ज्यादा : 32 से 35 इंच


बहुत ज्यादा : 35 इंच से ज्यादा


ये भी पढ़ें - मोटापा घटाना है तो खाना खाने से पहले पीएं ये ड्रिंक, सिर्फ 5 दिनों में ही दिखने लगेगा असर


yog-for-weight-loss-in-hindi


योग फॉर वेट लॉस  


योग वेट लॉस के लिए रामबाण उपाय है। जी हां अगर आप डाइटिंग, जिम और हर तरह की कोशिश करके हार चुके हैं तो योग का सहारा ले सकते हैं। फिट और हेल्दी रहने का इससे बढ़िया विकल्प आपको कहीं नहीं मिलेगा। दरअसल, योग सिर्फ वजन ही नहीं घटाता, बल्कि व्‍यक्ति का आत्‍मविश्‍वास भी बढ़ाता है। योग की सबसे खास बात तो यह है कि इससे आपके शरीर पर किसी तरह का कोई साइड इफेक्ट नहीं होता है और यह आपके शरीर पर जमे एक्सट्रा फैट को बर्न करने में मदद करता है। यहां हम आपको बता रहे हैं ऐसे ही कुछ आसान से योगासन, जो वेटलॉस के लिए बेस्ट माने जाते हैं। कौन- कौन से हैं वो योगासन जानने के लिए यहां क्लिक करें ...


मोटापा कम करने के लिए ट्राई कर सकते हैं ये डिटॉक्स ड्रिंक्स


परफेक्ट और फिट दिखने की होड़ में कोई बाजी मार ले जाता है तो कोई लाख कोशिशों के बाद भी हार जाता है और तो और उनमें से कुछ लोग ऐसे भी होते हैं जिनके पास समय ही नहीं होता है कि वो अपनी फिटनेस पर ध्यान दें। इन्हीं सब बातों को देखते हुए हम आपको कुछ ऐसे स्लिमिंग डिटॉक्स ड्रिंक्स के बारे में बता रहे हैं जिन्हें आप अपने बिजी शेड्यूल में भी बड़ी आसानी से फॉलो कर सकते हैं। इससे आपके शरीर में पानी की कमी भी नहीं होगी और तीसरे ही दिन से आपको अपने शरीर में फर्क भी नजर आने लगेगा। तो देर किस बात की इन ड्रिंक्स में जो आपको सूट करे उसे आप आज से ही ट्राई कर सकती हैं।


- लेमन मिंट ड्रिंक


- ऐलोवेरा मैजिक ड्रिंक


- मल्टी टास्किंग स्लिमिंग ड्रिंक


- टरमैरिक ड्रिंक


bab-ramdev-diet-chart-for-weight-loss-in-hindi


वजन करने के लिए कैसा होना चाहिए खानपान


वजन बढ़ने का सबसे प्रमुख कारण होता है हमारा खानपान। अगर हमारे खाने में कैलोरी की मात्रा ज्यादा होगी तो वजन बढ़ने के मौके ज्यादा हो जाते हैं। ज्यादा तला-भुना , फास्ट फूड, मीठा, ज्यादा नमक आदि का सेवन करने से शरीर में ज़रूरत से ज्यादा कैलोरी इकठ्ठा हो जाती हैं जिसे हम बिना फिजिकल एक्टिविटिज के बर्न नहीं कर पाते और नतीजा एक्सट्रा फैट के रूप में बढ़ा हुआ वजन। अगर आप इस बात की जानकारी रखें कि आपके शरीर को हर दिन कितने कैलोरी की आवश्यकता है और उतना ही इनटेक करें तो आपका वजन नहीं बढ़ेगा।


क्या है कैलोरी ?


एक इंसान को जीवित रहने के लिए ऊर्जा की जरूरत होती जिसे कैलोरी की इकाई से मापा जाता है। जोकि हमें खाने-पीने की चीजों से मेटाबॉलिज्म द्वारा मिलती हैं। इसी ऊर्जा को हम मेहनत के कार्य में इस्तेमाल करते हैं। एक तरह से यह भी कहा जा सकता है कि कैलोरी आपके शरीर को चलाने वाला ईधन है।


रोजाना कितनी कैलोरी ले रहे हैं, रखें इसका ध्यान


अक्सर हम वजन घटाने के लिए डाइटिंग का सहारा लेते हैं लेकिन ये जानने की कोशिश नहीं करते कि हम जो कुछ भी खा रहे हैं उसकी कैलोरी मात्रा कितनी है। यदि आप इस चीज को समझ जाते हैं कि रोजाना आपके शरीर को कितनी कैलोरी की आवश्यकता है तो आप अपना वजन आसानी से कम कर सकते हैं। आप रोजाना कितनी कैलोरी ले रहे हैं ये मापने के लिए आप मोबाइल में कैलोरी काउंट एेप का भी इस्तेमाल कर सकते हैं और फिट रह सकते हैं।


बाबा रामदेव वेट लॉस डाइट प्लान


अगर आप बिना किसी साइड इफेक्ट के अपना मोटापा (Weight Loss) करना चाहते हैं तो योग गुरु बाबा रामदेव का डाइट प्लान अपने डेली रुटीन में शामिल कर सकते हैं। हर किसी की शारीरिक संरचना अलग होती हैं, एक ही डाइट प्लान सबके लिए काम करें, ये जरूरी नही है। अगर आप चाहें तो इस डाइट चार्ट में अपने हिसाब से बदलाव कर सकते हैं। बाबा रामदेव मानते हैं कि अगर दिनभर सिर्फ गरम पानी का सेवन करें तो आप 3 से 5 किलो तक वेट लॉस कर सकते हैं।  


वेट लॉस डाइट चार्ट ( weight loss diet chart in hindi)


सबसे पहले तो ये ध्यान रखें कि सुबह का नाश्ता पेट भरकर करें, दोपहर को उसका आधा और रात को एक तिहाई हिस्सा ही खाये। जानिए कैसा होना चाहिए आपका सुबह, दिन और रात का खाना -


सुबह का ब्रेकफास्ट -


सुबह उठते ही - 1 गिलास गर्म पानी


6 बजे - मेथी दाना का पानी


7 या 8 बजे - अंकुरित मूंग, चना की सलाद/दलिया/ओट्स + लस्सी/छाछ/जूस +फल


दोपहर का लंच -


12 से 2 बजे की बीच - दाल 1 कटोरी +1 पतली रोटी+ हरी सब्जी + खीरे और टमाटर की सलाद


रात का डिनर -


7 बजे - एक गिलास नींबू पानी (बिना नमक या चीनी के)


8 या 9 बजे - 1 प्रोटीन यानि ड्राई फ्रूट्स वाले लड्डू या फिर एक कटोरी दही (बिना नमक या चीनी के)


नोट - डाइट के दौरान अपने शरीर में पानी की कमी बिल्कुल न होने दें। इसीलिए जरूरी है कि आप अपने शरीर को हमेशा हाइड्रेटेड रखें। आप जितना पानी पियेंगे उतना ही आपके शरीर का मेटाबॉलिज्म तेज होगा। लेकिन इसका मतलब ये नहीं है कि पानी की अति ही कर दें। अपने शरीर के वजन के 10 वे भाग को 2 से घटाने पर जो संख्या आती है उतने लीटर पानी पीना सही माना जाता है। जैसे कि मान लीजिए आपका वजन 70 किलो है तो उसका 10 वां भाग 7 होगा। अब उसमें से 2 घटाने पर 5 की संख्या आएगी। इसका मलतब है कि आपको रोजाना 5 लीटर पानी पीना ही चाहिए। सुबह खाली पेट गुनगुना पानी पीने से फैट कम होता है।


ये भी पढ़ें - वेट लॉस में आपकी मदद करेंगे ये 5 फिटनेस मोबाइल ऐप


मोटापा कम करने की दवाई ( पतंजलि वेट लॉस प्रोडक्ट )


अगर आप वजन घटाने की जी तोड़ कोशिश कर रहें हैं लेकिन फिर भी कोई असर नहीं दिख रहा। तो ऐसे में आप वेट लॉस के लिए बाजार में मिलने वाली कुछ दवाओं का इस्तेमाल कर सकते हैं। इसके लिए डॉक्टर से परामर्श जरूर करें। अगर आप आयुर्वेदिक दवाओं का सेवन करना चाहते हैं तो पतंजलि की वेट लॉस मेडिसिन का प्रयोग कर सकते हैं। ये पूरी तरह से आयुर्वेदिक और देसी हैं। यहां हम आपको पतंजलि के कुछ ऐसे वेट लॉस प्रोडक्ट यानि दवाओं के बारे में बता रहे हैं जो आपका वजन कम करने में बहुत ही मदद करेंगी, इनके कुछ ही दिनों के सेवन से आप अपने शरीर पर फर्क देख व जान सकेंगे। इन्हें आप किसी भी नजदीकी पतंजलि स्टोर से खरीद सकते हैं।


दिव्य मेदोहर वटी ( पतले होने की दवा )


दिव्य मेदोहर वटी का सेवन करने से शरीर में वसा के रूप में जमी चर्बी धीरे- धीरे पिघलने लगती है। पतंजलि की ये आयुर्वेदिक दवा पेट की चर्बी कम करने में बहुत असरदायक है। इस दवा की प्रमुख सामग्री है त्रिफला और गुग्गल। जो कि पाचन शक्ति को दुरुस्त रखता है और वसा पचाने की प्रक्रिया में सुधार लाता है। सिर्फ यही नहीं ये दवा हार्मोंस को संतुलन में रखने में भी मदद करती है। मेदोहर वटी एक हर्बल मेडिसिन है जिससे वजन कम करने के अलावा शरीर को एनर्जी भी मिलती है। प्रेगनेंट महिला की डिलीवरी के बाद बढ़े हुए वजन को कम करने में ये दवा काफी सहायक होती है।


Divya-Medohar-Vati-for-weight-loss-in-hindi


कैसे करें दिव्य मेदोहर वटी दवा का सेवन -


मोटापा कम करने के लिए पतंजलि की दवा का सेवन आप खाना खाने के बाद या फिर खाना खाने से पहले कभी भी कर सकते हैं। अगर खाना खाने से पहले दवा ले रहे हैं तो कम से कम आधा घंटा पहले और अगर खाना खाने के बाद ले रहे हैं तो कम से कम 1 घंटा बाद ही दवा लें। अगर इस दवा को गर्म पानी के साथ लिया जाये तो परिणाम अच्छे मिलते हैं।


दिव्य मेदोहर वटी दवा की कीमत - 80 रुपये


इसके अलावा भी पतंजलि की कुछ ऐसे प्रोडक्ट हैं जो मोटापा कम करने में सहायक हैं -


- आंवला जूस


- गुग्गुल


- त्रिफला चूर्ण


- दिव्य गोधन अर्क


- दिव्य पेय हर्बल टी


- एलोवेरा जूस


वजन कम करने के नैचुरल तरीके (naturals ways to lose weight fast)


वजन घटाने के लिए आप चाहे जितनी कोशिश कर लें लेकिन वो तभी घटेगा जब आपका रुटीन सही होगा। इसीलिए अगर आप चाहते हैं कि आपका वजन नैचुरल तरीके से आसानी और तेजी से कम हो तो इन उपायों को अपने रुटीन का हिस्सा बनाकर आप ये ख्वाहिश पूरी कर सकते हैं। ये टिप्स रोजाना फॉलो करते हैं तो आपका वजन हर गुजरते दिन के साथ कम होता चला जाएगा। तो आइए जानते हैं इन टिप्स के बारे में -


1 - खाना खाने से पहले सूप पिएं


2 - हेल्दी ब्रेकफास्ट करें


3 - थोड़ी- थोड़ी देर कुछ- कुछ खाते रहें


4 - खाने में करें मिर्च का इस्तेमाल


5 - रात में पीएं ग्रीन टी


6 - उदास मत रहें, हंसना जरूरी है


7 - शुगर से करें तौबा


8 - नीले रंग की प्लेट में खाना खाएं


9 - रोशनी में नहीं बल्कि अंधेरे में सोएं


10 - नींद पूरी लें


11 - डिनर के बाद आधे घंटे की वॉक


12 -  दिनभर हल्की-फुल्की एक्सरसाइज है जरूरी


इन सभी टिप्स के बारे में ज्यादा जानने के लिए यहां क्लिक करें ....


वेट लॉस टिप्स एट होम ( घरेलू नुस्खे)


अकसर मोटापे के शिकार हुए लोगों को ये सलाह दी जाती है कि वो जिम जाया करें या फिर 5 किलोमीटर की दौड़ लगाएं। लेकिन हर किसी के लिए इतना समय निकाल पाना थोड़ा मुश्किल है। लेकिन इसका मतलब ये नहीं कि आपको ये बहाना मिल गया कि आप के पास समय है ही नहीं। जरूरी नहीं है कि जिम या घर से बाहर किये जाने वाली एक्सरसाइज से ही मोटापा घटे। बल्कि घर बैठे भी कुछ आसान से घरेलू नुस्खे (home remedies) का इस्तेमाल कर आप अपना बढ़ा हुआ वजन कम कर सकते हैं। आइए जानते हैं कैसे -


गर्म पानी पीना शुरु करें


चाहे गर्मी हो या फिर सर्दी पानी हमेशा गुनगुना ही पिएं। सुबह-सुबह खाली पेट गर्म पानी में शहद मिलाकर या खाने के बाद हल्का गर्म पानी पीने से मेटाबॉल्जिम तेज होता है और जिससे मोटापा कम करने में मदद मिलती है। लेकिन यह याद रखें कि खाने के लगभग आधे से एक घंटे बाद ही पानी पीना चाहिए।


ज्यादातर सीढ़ियों का इस्तेमाल करें


अगर आप अपने घर की सीढ़ियां दिनभर में कम से कम 10 बार चढ़ते- उतरते हैं तो ये भी काफी हद तक वेट लॉस में आपकी मदद करेंगी। घर में हैं तो छत पर जाने का कोई मौका ना छोड़े, सीढ़ियां चढ़ना आपके लिए अच्छी कसरत साबित हो सकती है। ऑफिस में जाते हुए भी कोशिश करें कि लिफ्ट की जगह सीढ़ियों से जाएं। बेहतर परिणाम मिलेगा।


भरपूर नींद लें


अगर आप वजन वाकई कम करना चाहती हैं तो भरपूर नींद का आनंद लें। क्योंकि इस समय आपका शरीर दिन  भर की थकान और तनाव को मिटा देता है। और खास बात ये है कि वजन घटाने के इस पूरे प्रक्रिया में अच्छी नींद एक अहम भूमिका निभाती है। यह आपके हंगर हार्मोन को भी स्थिर करता है, जिससे आपको भूख को कंट्रोल करने में मदद मिलती है।


cumin water benefits


जीरे का पानी


जीरा वजन कम करने के लिए रामबाण औषधि है। आपको ये जानकर हैरानी होगी कि रोज एक चम्मच जीरे के सेवन से तीन गुना तेजी से फैट कम होता है। एक रिसर्च में भी पाया गया कि वजन कम करने में जीरा बहुत कारगर है। ये ना सिर्फ एक्स्ट्रा कैलोरी बर्न करता है बल्कि मेटाबॉलिज्म रेट बढ़ाकर पाचन यानि डाइजेशन भी ठीक करता है।


दिनभर में 1 नींबू है जरूरी


नींबू को विभिन्न विटामिन्स और मिनरल्स का खजाना माना जाता है और रोज सुबह नींबू-पानी पीने से कई तरह के लाभ होते हैं। पानी में नींबू निचोड़ कर पीने से शरीर को विटामिन सी, पोटैशियम और फाइबर मिलता है। नींबू का सेवन हमारे शरीर से अतिरिक्त चर्बी को बाहर निकालता है और मोटापे को दूर भी करता है। इसीलिए दिन में कम से कम 1 नींबू का सेवन जरूरी है। लेकिन इससे ज्यादा नहीं।


वजन घटाने से जुड़ी अन्य टिप्स पाने के लिए यहां क्लिक करें ....


घर पर की जाने वाले व्यायाम (Exercise to loss weight at home)


आज कल तो घर पर एक्सरसाइज करना बहुत ही आसान हो गया। आप गूगल पर  Exercise to loss weight at home Video डालकर सर्च करें और तमाम ऐसे वीडियो आ जायेंगे जिनकी हेल्प से आप रोजाना घर पर ही वेट लॉस के लिए एक्सरसाइज कर सकते हैं। यकीन मानिए ऐसे बहुत से लोग हैं जिन्होंने अपना वजन इन्ही वीडियोज को फॉलो करके घटाया है। यहां हम आपको कुछ ऐसे आसान सी होम एक्सरसाइज के बारे में बता रहे हैं जिन्हें आप रोजाना फॉलो कर सकती हैं -


- जंप स्क्वैट एक्सरसाइज


-  लेग लिफ्ट एक्सरसाइज


- रस्सी कूदना (Skipping)


-पुश- अप एक्सरसाइज


- उठक- बैठक


- डांस


-जुम्बा


- एरोबिक्स


ये भी पढ़ें - वजन जल्दी कम करना है तो रात में सोने से पहले जरूर करें ये काम


वेट लॉस को लेकर पूछें जाने वाले आम सवाल और उनके जवाब | Weight loss FAQS


कुछ लोग बढ़ते वजन को लेकर परेशान तो हैं लेकिन फिजिकली एक्टिव नहीं हैं क्योंकि उन्हें वेट लॉस की सही जानकारी ही नहीं है और जानकारी कहां से हासिल करें, ये भी पता नहीं है। और कुछ लोग ऐसे हैं जो वजन घटाने की कोशिश तो कर रहे हैं लेकिन वेटलॉस को लेकर काफी कंफ्यूज्ड हैं। क्या ये सही है? क्या ये नॉर्मल है? क्या ये गलत है? आखिर इसका मतलब क्या है? ये कुछ ऐसे सवाल हैं जो हमें कभी ना कभी परेशान ज़रूर करते हैं। इसलिए हम आपके लिए लाए हैं सोशल वेबसाइट कोरा पर वेट लॉस के बारे में पूछे गये कुछ ऐसे आम सवाल जिनका जवाब सभी जानना चाहते हैं! तो आप यहां जानें वेट लॉस से जुड़े अपने सभी सवालों के जवाब -


सवाल - अगर एक्सरसाइज करने या जिम जाने का भी टाइम नहीं है तो वेट लॉस के लिए क्या करना चाहिए ?


जवाब - अगर जिम जाने या एक्सरसाइज करने का टाइम नहीं है तो अपनी लाइफस्टाइल रूटीन को बदलें। ऐसे काम करें जिसमें फिजिकल मेहनत लगे। साथ ही अपनी कैलोरी पर कंट्रोल रखें। ऐसी चीजों को खाने में शामिल करें जिसमें कैलोरी इनटेक कम हो।  


सवाल - क्या चावल खाने से मोटापा बढ़ता है ?


जवाब - बहुत से लोग कहते हैं कि चावल खाने से वजन बढ़ता है लेकिन ऐसा कुछ नहीं है। चावल खाने से न तो फैट बढ़ता है और न ही इसे छोड़ देने से वजन घटता है। 1 कटोरी पक्के चावल में 2 रोटी में पाई जाने वाली कैलोरी से भी कम कैलोरी होती है। चावल कार्बोहाइड्रेट का जरूरी स्त्रोत है। ये हमारे शरीर को एनर्जी देता है।


सवाल - पीसीओडी (PCOD)या पीसीओएस (PCOS)होने की वजह से भी महिलाओं का वजन ज्यादा तेजी से बढ़ता है ?


जवाब - पॉलीसिस्टिक ओवरी सिंड्रोम यानी पीसीओएस भी महिलाओं में होने वाली ऐसी समस्या है, जो न सिर्फ फर्टिलिटी को कम करती है बल्कि चेहरे के बाल, मुहांसे, डिप्रेशन और वजन को भी बढ़ा देती है। रिसर्च से यह बात सामने आई कि महिलाएं अपना वजन कम करके इस सिंड्रोम से निजात पा सकती हैं। अगर पीसीओएस के साथ वजन कम करना चाहते हैं तो नियमित व्यायाम काफी कारगर होगा।


सवाल - रोज एक्सरसाइज करने के बाद भी वेट लॉस नहीं हो रहा है, इसके पीछे का कारण है ?


जवाब - जरूरी नहीं है कि डाइटिंग और एक्सरसाइज से आपका वजन शर्तिया कम हो जाये। ऐसे कई कारण हैं जो वेट लॉस में बाधा पहुंचाते हैं। अगर आपको डिप्रेशन, डायबिटीज़ या माइग्रेन है तो इसकी दवाई लेने से भी आपका वजन कम नहीं हो रहा होगा। या ज्यादा मेहनत करने की वजह से भूख बढ़ जाती है और ओवरईटिंग कर बैठते हैं।


सवाल - क्या खाना छोड़ देने, खाने की इच्छा न होने या फिर कम खाने की वजह से मोटापा बढ़ता है ?


जवाब - लोगों को लगता है कि वे ज्यादा खा नहीं रहे हैं लेकिन फिर भी वजन बढ़ रहा है। ऐसे में वे यह नहीं देखते कि वह कम तो खा रहे हैं लेकिन ऐसी चीजें खा रहे हैं जिनसे मोटापा बढ़ता है। मिसाल के तौर पर प्रोटीन की बजाय कार्बोहाइड्रेट ज्यादा ले रहे हैं। खाना खाने से वजन नहीं बढ़ता बल्कि खाने की गलत आदतों की वजह से आपके वजन पर असर पड़ता है। आप खाना जरूर खाएं लेकिन समय पर और सही भोजन करें।


खाना खाने का सही समय -


ब्रेकफास्ट - सुबह 7 से 8 बजे के बीच


लंच - दिन में 12 से 2 बजे के बीच


डिनर- रात में 7 से 9 बजे के बीच


वेटलॉस से जुड़े अन्य सवालों के जवाब जानने के लिए यहां क्लिक करें...

Published on Oct 6, 2018
Like button
2 Likes
Save Button Save
Share Button
Share
Read More
Trending Products

Your Feed