वैजाइना के ईस्ट इंफेक्शन की 6 बड़ी वजहें और इनसे बचाव का तरीका | POPxo
Home  >;  Lifestyle  >;  Health & Fitness  >;  Periods
वैजाइनल ईस्ट इंफेक्शन से बचने के लिए आपको जरूर जाननी चाहिए इसकी 6 बड़ी वजहें

वैजाइनल ईस्ट इंफेक्शन से बचने के लिए आपको जरूर जाननी चाहिए इसकी 6 बड़ी वजहें

क्या आपको पता है कि ईस्ट इंफेक्शन होने के क्या लक्षण होते हैं? क्योंकि अगर कभी आपको भी ईस्ट इंफेक्शन हो गया तो इसका पता कैसे लगेगा कि यह ईस्ट इंफेक्शन ही है। आपकी वैजाइना में खुजली, जलन और चिपचिपा सफेद डिस्चार्ज होना, जो कई बार सफेद पनीर की तरह कुछ आपकी पैंटी में लगा हुआ भी दिखता है। यही होते हैं ईस्ट इंफेक्शन के प्रमुख लक्षण जो ज्यादातर महिलाओं में काफी कॉमन होते हैं और हर महिला को कम से कम एक बार तो होता ही है। दरअसल ईस्ट इंफेक्शन एक खास तरह की फंगस के बहुत ज्यादा बढ़ जाने से होता है और इससे आपकी वैजाइना में बैक्टीरिया का बैलेंस गड़बड़ा जाता है।


अगर आपको ईस्ट इंफेक्शन की परेशानी काफी जल्दी- जल्दी होती है तो जरूर इसकी कोई खास वजह होगी। हम आपको कुछ ऐसी बातें बता रहे हैं, जिनको जानने के बाद आपको समझ आ जाएगा कि आपका यह इंफेक्शन किस वजह से इतना बढ़ रहा है। और फिर आप यह बातें जानकर इसे और ज्यादा बढ़ने या दोबारा होने से रोक पाएंगी। ईस्ट इंफेक्शन के होने के पीछे की खास वजहें और कैसे आने वाले समय में इसे रोका जा सकता है।  


1. अपने सैनिटरी पैड को उचित समय पर न बदलना


Sanitary napkin


न्यूयॉर्क यूनिवर्सिटी में गाइनोकोलॉजी के प्रोफेसर तारेने शिराजियान कहती हैं कि ईस्ट हमेशा नमी या फिर मॉइश्चर वाले वातावरण में सबसे ज्यादा तेजी से बढ़ता है और आपके पैड या टैम्पोन ऐसी ही चीज होते हैं जो ज्यादा से ज्यादा मॉइश्चर को अपने अंदर समाए रहते हैं, जिससे ईस्ट काफी तेजी से बढ़ पाता है। इसका उपाय बताते हुए वो कहती हैं कि जब भी आपको अपना पैड कुछ ज्यादा गीला महसूस हो, उसे बदल देना चाहिए। कम से कम हर चार घंटे में एक बार आपको अपना पैड बदलना चाहिए।


2. एंटीबायोटिक्स का सेवन


 


अगर आप किसी भी बीमारी या इंफेक्शन की वजह से एंटीबायोटिक्स का सेवन कर रही हैं तो आपके पूरे पर्सनल ईकोसिस्टम पर इसका बुरा प्रभाव पड़ता है। डॉ. कैथरीन बॉयलिंग का कहना है कि एंटीबायोटिक्स आपकी वैजाइना के सारे अच्छे बैक्टीरिया को खत्म करके ईस्ट को बढ़ने का न्यौता दे देते हैं। उनका सुझाव है कि ऐसे में वैजाइना के अच्छे बैक्टीरिया को बढ़ने देने और इंफेक्शन के चांस को कम करने के लिए एंटीबायोटिक्स के साथ- साथ प्रोबायोटिक सप्लीमेंट जरूर लेना चाहिए। इसके लिए ऐसा प्रोबायोटिक सप्लीमेंट ले ना अच्छा रहता है जिसमें लैक्टोबैसीलस हो, क्योंकि यही वैजाइना में पाया जाने वाला प्रमुख वो बैक्टीरिया है जो आपकी वैजाइना की बेहतर हेल्थ के लिए जरूरी होता है। और सबसे जरूरी बात यह है कि ऐसे अच्छे बैक्टीरिया को किसी गोली या दवा के रूप में लेने से बेहतर है कि इन्हें अपने फूड में ही शामिल कर लिया जाए। ऐसे प्रोडक्ट्स में योगर्ट यानि दही सबसे अच्छा हेल्दी फूड है क्योंकि इसमें जीवित एक्टिव कल्चर यानि अच्छे बैक्टीरिया पाये जाते हैं।


3. हाई ब्लड शुगर का होना


%E2%80%8BArtificial sweetener   diabetes%E2%80%8B1


क्या आपको डायबिटीज़ या प्री डायबिटीज़ है? नहीं पता है तो जानने के लिए अपनी ब्लड शुगर चेक कराएं। ईस्ट को शुगर से ही इनर्जी मिलती है और परिणामस्वरूप ईस्ट शरीर के नमी वाले हिस्सों, खासतौर पर वैजाइना में बढ़ने लगता है, साथ ही इंफेक्शन भी। अगर आफको लगता है कि आपकी ब्लड शुगर कंट्रोल में नहीं है तो इसे कंट्रोल करने के लिए अपने डॉक्टर से सलाह लें और जल्दी से जल्दी इसे कंट्रोल करें। इसे कंट्रोल करने के लिए आपको ऐसी डाइट लेनी चाहिए जिसमें शुगर की मात्रा बहुत कम हो।


4. इंफेक्शन वाले पार्टनर के साथ सेक्स


Teenage sex 9139649


जी हां, ईस्ट इंफेक्शन छूत की बीमारी हो सकती है! यह आपके पास किसी ऐसे पार्टनर से भी आ सकती है जो पहले से इससे पीड़ित हो। फिर चाहे वह मुंह का ईस्ट इंफेक्शन हो या फिर पेनिस का। पुरुषों में खासतौर पर यह काफी ज्यादा कॉमन है और इसमें पेनिस के फोरस्किन यानि आगे की स्किन ज्यादा प्रभावित होती है। इसके अलावा अगर आप किसी के साथ बहुत ज्यादा सेक्स करती हैं, चाहे आपके पार्टनर को इंफेक्शन न भी हो, तो भी आपको यह समस्या हो सकती है। इसकी वजह यह है कि ऐसे में आपकी वैजाइना का पीएच जल्दी- जल्दी बदलता है और इससे ईस्ट वैजाइना के अच्छे बैक्टीरिया से ज्यादा सक्रिय हो जाते हैं और इंफेक्शन का कारण बनते हैं। इससे बचने के लिए आपको सेक्स के तुरंत बाद टॉयलेट जाने की सलाह दी जाती है।


5. टाइट अंडरगारमेंट्स पहनना


Love Marriage sex


अगर आपके अंडरगारमेंट्स काफी टाइट और सिंथेटिक फैब्रिक से बने हैं तो यह भी हवा को पास नहीं होने देकर गर्म और नम वातावरण को बढ़ावा देते हैं और परिणामस्वरूप ईस्ट की ग्रोथ को बढ़ाने में सहायक सिद्ध हो सकते हैं। इससे बचने के लिए रात को सोते वक्त अगर हो सके तो अंडरगारमेंट्स न ही पहनें। और अगर ऐसा रोज न हो सकता हो तो सप्ताह में एक या दो बार ऐसा करें। इससे आपकी वैजाइना को हेल्दी रहने के लिए नेचुरल फ्रेश हवा मिलेगी। इसके अलावा आपको ऐसे अंडरगारमेंट्स का चुनाव करना चाहिए, जो कॉटन या ऐसे फैब्रिक का हो, जिसमें से पसीना सुखाने के लिए हवा पास हो सके।


6. खुशबूदार हाईजीन प्रोडक्ट्स का इस्तेमाल


The Fragrance


अगर आपको अपनी वैजाइना को खुशबूदार बनाए रखना पसंद है और इसके लिए आप खुशबूदार हाईजीन प्रोडक्ट्स का इस्तेमाल करती हैं तो यह भी आपके ईस्ट इंफेक्शन का बड़ा कारण हो सकता है। ध्यान रखें कि सेंटेड स्प्रे, वाइप्स, वैजाइना वॉश और यहां तक कि खुशबूदार बबल बाथ सोप भी आपकी वैजाइना के एसिडिटी लेवल को काफी गिरा सकता है जो ईस्ट इंफेक्शन की बड़ी वजह भी बन सकता है। अगर आप चाहती हैं कि आपकी वैजाइना हेल्दी रहे तो इन चीजों के बजाय अपने साधारण बाथ सोप का ही इस्तेमाल करती रहें और वैजाइना को क्लीन करने के बारे में सोचें भी नहीं।


इन्हें भी देखें -


ईस्ट इंफेक्शन के अलावा इन 5 वजहों से भी हो सकती है वैजाइना में खुजली...


जानें वैजाइनल इंफेक्शन से जुड़े अपने सभी सवालों के जवाब


सेक्स के दौरान इन 9 वजहों से हो सकता है आपको दर्द? ...क्या करें ऐसे में!


जानें, फीमेल सेक्स स्पॉट क्लिटोरिस और जी- स्पॉट संबंधी मिथकों का सच

Published on Sep 5, 2018
Like button
2 Likes
Save Button Save
Share Button
Share
Read More
Trending Products

Your Feed