आंखों के रंग से पहचानें हाई ब्लड प्रेशर का खतरा|POPxo Hindi | POPxo
Home  >;  Lifestyle  >;  Safety
आंखों के रंग से पहचानें हाई ब्लड प्रेशर के हाई रिस्क वाले लक्षण

आंखों के रंग से पहचानें हाई ब्लड प्रेशर के हाई रिस्क वाले लक्षण

आमतौर पर हाई  ब्लड प्रेशर के लक्षणों को पहचानना काफी मुश्किल होता है, लेकिन इसमें छाती में दर्द, तेज सरदर्द और बेहोशी या नींद आने जैसे लक्षण शामिल हो सकते हैं। लेकिन अब आप आंखों को देखकर हाई ब्लड प्रेशर ही नहीं, बल्कि हाइपरटेंशन के लक्षणों को भी पहचान सकते हैं।


जानलेवा हाइपरटेंशन


हमारे देश में ही नहीं , बल्कि पूरी दुनिया में हाई ब्लड प्रेशर के मरीजों की बड़ी संख्या है। और इससे बढ़ रही हाइपरटेंशन की कंडीशन तो कई बार जानलेवा स्थिति में बदल जाती है। इससे होने वाली समस्याओं में दिल की बीमारियां, हार्ट अटैक और स्ट्रोक्स शामिल हैं। हालांकि आप अपने लाइफस्टाइल और डाइट में कुछ बदलाव करके आप हाइपरटेंशन की आशंका को कम कर सकते हैं।


आंखों के रंग से जानें हाई ब्लड प्रेशर के लक्षण


डॉक्टरों का कहना है कि अगर आपकी आंखें लगातार लाल रहती हैं तो यह हाई ब्लड प्रेशर के खतरे का खास लक्षण होता है। इसका मतलब यह है कि आपकी आंख के पीछे वाली ऑप्टिकल नर्व पर आपके बढ़ रहे ब्लड प्रेशर का असर पड़ रहा है।


आंखों में ब्लीडिंग और धुंधला दिखना


डॉक्टरों का कहना है कि हाई ब्लड प्रेशर आपकी आंखों की खून की नलिकाओं को डैमेज कर सकता है, जिससे आंखों में रेडनेस यानि लाल दिखने लगती हैं। अगर आंखों की लाली वाली स्थिति ज्यादा बढ़ती है तो आपकी आंखों की ब्लड वैसल्स से ब्लीडिंग भी हो सकती है। यानि आंखों की रक्त की नलिकाएं बर्स्ट हो सकती हैं, जिससे आंखों में खून आ सकता है। और इसका परिणाम आपकी विजन का ब्लर होना यानि आपको धुंधला दिखने से लेकर आंखों की रोशनी पूरी तरह खत्म होने तक हो सकता है।


डाटबिटीज़ और हाई ब्लड प्रेशर


Blood Pressure


हाई ब्लड प्रेशर का खतरा सबसे ज्यादा डायबिटीज़ के मरीजों को होता है और इन्हें हाई ब्लड प्रेशर से होने वाली समस्या को रेटिनोपैथी कहा जाता है।


अचानक होने वाली समस्याएं


कई बार बहुत से लोगों को यह पता ही नहीं लगता कि उन्हें हाई ब्लड प्रेशर है और ऐसे मरीज़ों को अचानक स्ट्रोक हो सकता है या फिर उन्हें इस वजह से अचानक कोई खतरनाक परिस्थिति का सामना करना पड़ सकता है। इसके अलावा कई बार लोगों को हाई ब्लड प्रेशर होता नहीं है, लेकिन कभी- कभी किसी वजह से अचानक ही बढ़ जाता है। ऐसी स्थिति में अगर आपको हाई ब्लड प्रेशर के लक्षणों के बारे में पता है तो तुरंत ही मेडिकल हेल्प या फिर अस्पताल जाकर मदद ले सकते हैं या फिर जानने वाले किसी व्यक्ति की मदद कर सकते हैं।


हाई ब्लड प्रेशर के दूसरे लक्षण


हाई ब्लड प्रेशर के दूसरे लक्षणों में छाती में दर्द, सिर दर्द और सांसें तेज चलना शामिल हैं। इसके अलावा नाक से खून आना भी हाईपरटेंशन के बढ़ते खतरे का एक गंभीर लक्षण हो सकता है। दरअसल हाई ब्लड प्रेशर में नाक की ब्लड वैसल्स सूज जाती हैं और फिर बर्स्ट यानि फट जाती हैं। इससे नाक से खून आने लगता है।


हाई ब्लड प्रेशर का रिस्क फैक्टर


आमतौर पर नाक से खून आना यानि नकसीर का लक्षण कुछ मिनट के लिए ही होता है, लेकिन यदि ऐसा ज्यादा देर तक होता है या फिर जल्दी- जल्दी होता है तो आपको तुरंत अपने डॉक्टर से मिलना चाहिए।


ब्लड प्रेशर हाई होने के कारण


हाई ब्लड प्रेशर होने के कई कारण हो सकते हैं। जैसे यह वजन ज्यादा होने, जरूरी एक्सरसाइज़ न करने, नींद पूरी न होने और बहुत ज्यादा नमक खाने की वजह से भी हो सकता है।


ब्लड प्रेशर कंट्रोल रखने के लिए क्या करें


अगर आप चाहते हैं कि आपका ब्लड प्रेशर कंट्रोल में रहे तो आपको एक दिन में 6 ग्राम (करीब एक चम्मच) नमक से ज्यादा नहीं खाना चाहिए। यानि कोशिश करनी चाहिए कि आप कम से कम नमक खाएं।


कब कब चेक करें ब्लड प्रेशर


चालीस से ज्यादा उम्र के हर व्यक्ति को कम से कम पांच साल में एक बार अपना ब्लड प्रेशर जरूर चेक करवाना चाहिए।


इन्हें भी देखें -
आंखों की खुजली, जलन और सूजन से राहत के लिए आजमाएं ये 10 घरेलू उपाय


लो फिर आ गई ‘फीमेल वियाग्रा’ एडी, मिल रही है ऑनलाइन


वर्कप्लेस पर हर लड़की को होता है वर्क प्रेशर और स्ट्रेस, जानें क्या हैं बचने के उपाय

Published on Sep 17, 2018
Like button
2 Likes
Save Button Save
Share Button
Share
Read More
Trending Products

Your Feed