सावन के महीने में भूलकर भी न खाएं ये चीजें |POPxoHindi | POPxo
Home  >;  Lifestyle  >;  Food  >;  Astrology
 जरा संभल के! सावन के महीने में भूलकर भी न खाएं ये चीजें

जरा संभल के! सावन के महीने में भूलकर भी न खाएं ये चीजें

सावन का महीना यानि शिव का प्रिय महीना। सुहाना मौसम और चारों ओर हरियाली ही हरियाली। लेकिन यही हरियाली भरा खुशनुमा मौसम अपने साथ-साथ कई तरह की बीमारियां भी लेकर आता है और इसीलिए सावन में कुछ चीजों को खाने से परहेज किया जाता है। आयुर्वेद के अनुसार सावन में ज्यादातर आसमान में बादल छाए रहते हैं या फिर बारिश होती रहती है, जिस वजह से कई बार सूर्य और चंद्रमा दिखाई नहीं देते हैं। जब इनकी रोशनी हम तक नहीं पहुंचती है तो हमारी पाचन शक्ति कमजोर हो जाती है। इन दोनों ग्रहों की रोशनी से पाचन शक्ति मजबूत होती है। इसलिए इस महीने में खान-पान में खास सावधानी रखनी चाहिए। तो आइए जानते हैं कि सावन में कौन सी चीज खानी नहीं चाहिए और क्यों..


बैंगन


Eggplant Come Summer 0


शास्त्रों के अनुसार सावन के महीने में बैंगन वर्जित है। वैज्ञानिक कारण यह है कि सावन में बैंगन में कीड़े ज्यादा लगते हैं। ऐसे में बैंगन का सेहत पर बुरा असर पड़ सकता है। इसलिए सावन में बैंगन खाने की मनाही है।


दूध और उससे बनी चीजें


544807136-612x612


सावन के महीने में डेयरी प्रोडक्ट यानि दूध से बनी चीजों का सेवन नहीं करना चाहिए। खासतौर पर कच्चे दूध का। इससे वात (पित्त और कफ) रोग हो सकते हैं। दरअसल, बारिश के मौसम में जहरीले कीडे- मकौड़ों की संख्या बढ़ जाती है। गाय या भैंस घास के साथ कई कीड़े-मकौड़ों को भी खा जाती हैं। इसीलिए दूध गुणकारी के बजाय हानिकारक हो जाता है। इसलिए सावन में दूध नहीं पीना चाहिए। यही कारण है कि सावन में शिव का दूध- दही से अभिषेक किया जाता है।


साग


sarson-ka-saag-2


आयुर्वेद के अनुसार बारिश में अक्सर हरी सब्जियों में बीमारी फैलाने वाले कीटाणु पाए जाते हैं। जिससे पेट और त्वचा से संबंधित बीमारियां होती हैं। इस मौसम में शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता भी कम हो जाती है। इसीलिए सावन में हरी सब्जियां नहीं खाना चाहिए। यही वजह है कि आज भी घर के बड़े- बुजुर्ग सावन में साग और पत्तेदार सब्जियां बनाने के लिए मना करते हैं।


नॉनवेज फूड


484902-non-vegetarian-food-image


सावन में नॉनवेज यानि मांसाहारी भोजन नहीं करना चाहिए। इस मौसम में मीट में काफी तेजी से संक्रमण फैलाता है जो कि आपको काफी बीमार कर सकता है। यही कारण है कि सावन में लोग मांस- मदिरा का पूरी तरह से त्याग कर देते हैं।


सलाद और मशरूम


garden salad1


जो लोग सलाद खाने की शौकीन हैं उन्हें सावन भर जरा सलाद से दूर ही रहना चाहिए। क्योंकि बारिश के मौसम में सब्जियों में बहुत जल्दी बैक्टीरिया पैदा हो जाते हैं जिसकी वजह से कच्ची सब्जियां खाने से बचना चाहिए। इसी तरह बारिश के मौसम में मशरूम खाने से भी बचना चाहिए क्योंकि इससे इंफेक्शन होने का खतरा ज्यादा रहता है।


तली- भुनी चीजें


landing-16x9 127 ma14 science frie afm 127 ma14 science fried foods 1 640x360


जैसे ही बारिश होती है आपका मन करता है कि समोसे, पकौड़े खाएं जाएं लेकिन क्या आपको पता है कि खासतौर पर सावन के महीने में ही तली- भुनी चीजें ज्यादा नुकसान करती हैं। डॉक्टर बताते हैं कि इस मौसम में ऐसी चीजें खाने से पेट में सूजन आने के साथ- साथ पाचन शक्ति भी कमजोर हो सकती है।  


#काम की बात


आयुर्वेद के अनुसार बारिश में ताजा, गर्म और जल्दी पचने वाली चीजें खाना चाहिए। इस मौसम में पुराना गेहूं, चावल, मक्का, सरसों, राई, खीरा, खिचड़ी, दही , मूंग, अरहर की दाल, सब्जियों में लौकी, तुरई, टमाटर खाएं और सेहतमंद रहें।


(आपके लिए खुशखबरी! POPxo शॉप से कीजिए अपने पसंदीदा समान की शॉपिंग और वो भी 30% की छूट के साथ। यह ऑफर सिर्फ 30 जुलाई तक ही मान्य है। POPXO SHOP पर जाएं और POPXO30 कोड के साथ पाएं आकर्षक छूट।) 


इन्हें भी पढ़ें -


1. भूलकर भी खाली पेट न खाएं ये चीजें, सेहत पर पड़ता है उल्टा असर
2. आयुर्वेद के अनुसार जानिए क्या है पानी पीने का सही तरीका
3. भूलकर भी किसी को गिफ्ट न करें ये 5 चीजें, बुरा पड़ता है असर

Published on Jul 28, 2018
Like button
2 Likes
Save Button Save
Share Button
Share
Read More
Trending Products

Your Feed