#मिथक: पीरियड्स से जुड़ी ये 8 बातें हैं बिल्कुल गलत! | POPxo Hindi | POPxo
Home  >  Lifestyle  >  Health  >  Periods
#मिथक: पीरियड्स से जुड़ी ये 8 बातें हैं बिल्कुल गलत!

#मिथक: पीरियड्स से जुड़ी ये 8 बातें हैं बिल्कुल गलत!

पीरियड्स के बारे में हम न जानें कितनी ही बार कुछ न कुछ सुनते रहते हैं (एक बात ये भी कि वो गंदगी से भरा है) और बहुत-सी बातों पर यूं ही यकीन भी कर लेते हैं। इसलिए ये ज़रूरी है कि हम आपको बताएं कि आपके मंथली पीरियड्स पूरी तरह नैचुरल हैं और इनके बारे में कुछ भी ऊट-पटांग सोचने की आपको बिल्कुल ज़रूरत नहीं। आपको इन अंछविश्वास भरी बातों से दूर रहना चाहिए।

मिथक 1: अगर आप टैम्पॉन्स का इस्तेमाल करती हैं तो आप वर्जिन नहीं है

1

जिसने भी आपसे ये कहा है उसे वाकई सेक्स एजुकेशन की ज़रूरत है। वर्जिनिटी का हाइमेन से कोई लेना-देना नहीं है। जो भी इंसान सेक्चुअल-इंटरकोर्स में शामिल नहीं है वो वर्जिन है। सेक्स के अलावा भी बहुत सारे तरीके हैं हाइमेन तोड़ने के और सेनिटरी पैड्स या टैम्पॉन्स का आपकी वर्जिनिटी से कोई मतलब नहीं है। आप बेझिझक इनका इस्तेमाल कर सकती हैं।

मिथक 2: अगर आप अपना पीरियड मिस करती हैं तो आप प्रेग्नेंट हैं

इससे पहले कि आप ये मान लें कि आपकी ड्यूटी 9 महीने के लिए फिक्स हो गई है हम आपको बता दें कि पीरियड्स न आने के और भी कई कारण हो सकते हैं जैसे - स्ट्रेस, खराब डाइट, वेट-लॉस और हॉरमोनल चेंज वगैरह। ऐसा अगर अक्सर ही होता है तो डॉक्टर की सलाह लें।

मिथक 3: PMS जैसी कोई चीज़ होती ही नहीं

3.

कई लोग ऐसे होते हैं जिन्हें लगता है कि PMS (premenstrual syndrome) जैसा कुछ भी नहीं होता। ये दिमाग का वहम है जबकि पीरियड से पहले थकान, स्ट्रेस, कमर-दर्द वगैरह नॉर्मल है। थोड़ी रिसर्च ही कर लें तो बेहतर होगा।

मिथक 4: पीरियड्स के दौरान महिला गंदी और अशुद्ध है

इसमें गंदगी और अशुद्धता जैसा कुछ भी नहीं है बल्कि ये तो एक प्रूफ है कि आप में प्रजनन करने की क्षमता है। बस क्योंकि आपके एग फर्टिलाइज़्ड नहीं हैं इसलिए आप उन्हें अपनी बॉडी से अलग कर रही हैं।

मिथक 5: पीरियड के दैरान सेक्स करने से प्रेग्नेंट नहीं हो सकते

5.

ये आप से किस ने कह दिया? बिना प्रोटेक्शन के सेक्स हमेशा शंका में रहता है क्योंकि स्पर्म आपकी बॉडी में 5 दिन तक जीवित रह सकते हैं। इतने में अगर आपको पीरियड से मुक्ति मिल गई तो ये पहुंच जाएंगे सीधे आपके ओवा के पास।

मिथक 6: सभी महिलाएं अपने पीरियड्स के दौरान चिड़चिड़ी हो जाती हैं

कई लोग ये मानते हैं कि PMS जैसा कुछ है ही नहीं तो कई लोगों का कहना ये है कि पीरियड की वजह से ही हम लड़कियां ज्यादा गुस्सा करती हैं। फिर पुरुषों को तो कभी गुस्सा ही नहीं करना चाहिए..है न? ;)

मिथक 7: उस वक्त अचार छूने से वो खराब हो जाएगा

7.

दादी-नानी की याद आई?? आपके वैजाइनल फ्लो से अचार का कोई लेना-देना नहीं है..लेकिन आपका हाईजीनिक होना ज़रूरी है। इसलिए आप पीरियड के वक्त आराम से अचार का जार छू सकती हैं और चटपटा स्वाद ले सकती हैं।

मिथक 8: पीरियड में आपको किचन में या मंदिर में नहीं जाना चाहिए

ये बात बिल्कुल निराधार हैं..पर बद्किस्मती से इंडिया में बहुत बुरी तरह फैली हैं और लोग इन अंधविश्वास वाली बातों को मानते आ रहे हैं। अगर पीरियड में कुछ भी गंदा नहीं है तो आप किचन में जाएं या मंदिर में..इससे कोई फर्क नहीं पड़ता। और भगवान इससे अशुद्ध कैसे हो सकते हैं अगर ये प्रोसेस ही भगवान की देन है। आप इन दिनों भी वैसे ही रह सकती हैं जैसे बाकी पूरे महीने रहती हैं। :)

इन्हें भी देखें- 

Published on Apr 23, 2018
Like button
2 Likes
Save Button Save
Share Button
-1 Shares
Read More
Trending Products

Your Feed