शायद इन 7 आश्चर्यजनक वजहों से लेट हो रहे हैं आपके पीरियड्स ! | POPxo

Are you over 18?

  • Yes
  • No

Girls Only!

Uh-oh. You haven't set your gender on your Google account. We check this to keep for girls only.

To set your gender on Google:

  • 1. Click the button below to go to Google settings.
  • 2. Set your gender to "Female"
  • 3. Make sure your gender is set to 'Visible' or 'Public'
  • Go to Google settings
  • Cancel

"Do you really want to hide Pia" ?

Note: You can enable Pia again from the settings menu.

  • Yes
  • No
cross
Book a cab
Order food
View your horoscope
Gulabo - your period tracker
Hide Pia
Show latest feed
हिंदी
search
Home > Lifestyle > Health & Fitness
शायद इन 7 आश्चर्यजनक वजहों से लेट हो रहे हैं आपके पीरियड्स !

शायद इन 7 आश्चर्यजनक वजहों से लेट हो रहे हैं आपके पीरियड्स !

आपने कभी सोचा नहीं होगा कि आप अपने पीरियड्स को मिस करेंगी, लेकिन जब ये लेटहोता है, तब आप ज़रूर उसे मिस करती हैं! पर घबराने से पहले ये बात याद रखें कि पीरियड् प्रॉब्लम की कई वजहें हो सकती हैं, जो आपके साइकिल को डिस्टर्बकर सकती हैं – और जी नहीं, मासिक धर्म में देरी का कारण सिर्फ प्रेगनेंसी ही नहीं होता है। तो लंबी सांस लें व चिंता ना करें, आपका पीरियड आ जाएगा; और इसके बारे में सोचना बंद करें। यहां जानें कुछ कारण, जो आपके पीरियड को लेट कर सकते हैं। 

1. आपके रोज़ के रूटीन में बदलाव आया है

मासिक धर्म का न आना आपके रूटीन में बदलाव के कारण हो सकता है|क्या आपने नया जॉब या कॉलेज शुरू किया है? आपके उठने का समय बदल गया है? आप लगातार कई रातों को जागकर काम कर रही हैं? आपके लाइफस्टाइल में बदलाव के कारण आपकी साइकिल भी बदलती है और इसलिए हॉर्मोन्स कंफ्युज़ हो जाते हैं। ये बात तब तो बिल्कुल सच होती है, जब ओव्युलेशन के टाइम आप अपने रुटीन में बदलाव करती हैं। इसमें चिंता की कोई बात नहीं है, जब आपकी बॉडी नए रुटीन से एडजस्ट कर लेगी, तब सब कुछ नॉर्मल हो जाएगा; इसलिए थोड़ा सा पेशेंस रखें।

2. आप ट्रेवल कर रही हैंlate periods. 2

आप छुट्टियों पर हैं, इसका ये मतलब नहीं है कि आपका पीरियड भी छुट्टी पर है! बहुत सा ट्रेवल, लंबी फ्लाइट्स, नई जगह और टाइम ज़ोन में चेंज के कारण आपकी बायोलॉजिकल क्लॉक  गड़बड़ा जाती है। इसके कारण कई लोगों में पीरियड जल्दी आ जाता है, वहीं कई लोगों में मासिक धर्म में देरी हो जाती है। इसलिए रिलैक्स करें व अपनी ट्रिप एन्जॉय करें और अपनी साइकिल को एडजस्ट होने का टाइम दें। ये एकदम नॉर्मल बात है।

3. आप बहुत तनाव में हैं

ब्रेकअप, फ़ाइनल एग्ज़ाम्स, घर शिफ्ट करना, ऑफिस में डिमांडिंग बॉस – ऐसी कई तनाव देने वाली चीज़ें होती हैं, जिनसे हम रोज़मर्रा की ज़िंदगी में गुज़रते हैं, मासिक धर्म के न आने का कारण हो सकती हैं। तनाव के कारण पीरियड पर असर पड़ने के चांसेज़ बहुत ज़्यादा होते हैं। और इसलिए हो सकता है कि आपकी बॉडी ओव्युलेशन को तब तक रोक कर रखें, जब तक आपका तनाव कम नहीं हो जाता है – ये नेचर का तरीका है कोप करने का। तो आप थोड़ा सा चिंता कम करें और रिलैक्स करने की कोशिश करें, रिलैक्स करना ही पीरियड प्रॉब्लम्स का इलाज है

4. आप बीमार हैंlate periods.4

ये बहुत ही आम बात है, लेकिन कभी-कभी तगड़ा जुकाम भी आपकी साइकिल को लेट कर सकता है। ऐसा सिर्फ जुकाम से ही नहीं होता है, लेकिन अगर आप साइकिल के बीच में, ओव्युलेशन के समय बीमार पड़ जाती हैं, तो हो सकता है कि इसका असर आपको दो हफ्ते बाद नज़र आए – जैसे कि आपके मासिक धर्म में देरी हो जाए या उस महीने आए ही ना। ऐसा हो सकता है क्योंकि आपकी बॉडी वाइरस और बैक्टीरिया से लड़ने में इतनी बिजी होती है कि वो उसी टाइम ओव्युलेट नहीं कर पाती है। 

5. अचानक से वज़न बढ़ना या घटना

धीरे-धीरे वज़न बढ़ाना या घटाना हेल्दी तरीका है। लेकिन डाइटिंग, ज़्यादा खाने या ज़्यादा व्यायाम के कारण, एकदम से वज़न में बदलाव आता है, जिसका असर आपके पीरियड पर पड़ता है और पीरियड प्रॉब्लम्स होती हैं। आपके आख़िर और अभी के साइकिल के बीच में, इस नई बॉडी के साथ एडजस्ट होने में हॉर्मोन्स को काफी दिक्कत आती है। आपके वज़न का सीधा असर आपकी साइकिल पर पड़ता है; इसलिए वज़न घटाने या बढ़ाने के लिए हमेशा हेल्दी तरीका चुनें

6. कैलकुलेशन की उलझनlate periods 6

हम सभी जानते हैं कि एक औसत साइकिल 28 दिन का होता है, लेकिन किसी के लिए ये लंबा तो किसी के लिए ये छोटा होता है; और इसलिए आपका पीरियड कब आएगा, इसे कैलकुलेट करना थोड़ा कन्फ्युजिंग हो जाता है। जिसका मतलब है कि शायद आपका मासिक धर्म का न आना चिंताजनक नहीं है। और थोड़ी बहुत अनियमितता होना तो एकदम नॉर्मल बात है। तो अगर पिछले महीने पीरियड जल्दी आया था, तो इसके चांसेस है कि इस महीने थोड़ा लेट आए। इसलिए पीरियड प्रॉब्लम्स से घबराने की जगह, अपनी बॉडी के इन छोटे-मोटे बदलावों को अपनाना सीखें। 

7. हॉर्मोन्स का असंतुलन

आपको ये जानकार आश्चर्य होगा की PCOS (Polycystic Ovarian Syndrome) कितना कॉमन है आजकल! कई लड़कियां तो अपनी पूरी ज़िंदगी निकाल देती हैं और उनको पता ही नहीं होता है कि उन्हें ये है! ये एक हॉर्मोनल इम्बैलेंस है, जिसमें उन हॉर्मोन्स -एस्ट्रोजेन, प्रोजेस्ट्रोन और टेस्टोस्टेरों - के लेवल बदल जाते हैं, जो आपकी साइकिल से सीधे तौर पर जुड़े होते हैं। अनियमित पीरियड PCOS का एक बहुत ही कॉमन निशान है, जिसे आसानी से ठीक किया जा सकता है – तो अगर आपको लगता है कि आप इसकी शिकार हो सकती हैं, तो अपने डॉक्टर से ज़रूर मिलें। थाइरोइड भी हॉर्मोन्स से जुडी तकलीफ है, जो आपके पीरियड प्रॉब्लम्स का कारण हो सकता है। images: shutterstock यह स्टोरी POPxo हिन्दी के लिए Manali Bhatnagar ने लिखी है। ये भी पढ़ें : Periods में Sex करने से पहले ज़रूर जान लें ये 12 बातें ये भी पढ़ें : ये असर डालते हैं Periods आपके बालों पर!
Published on Apr 8, 2016
Like button
2 Likes
Save Button Save
Share Button
Share
Read More

Your Feed