#MyStory: क्यों मैंने अपने Long-Term रिलेशनशिप में धोखा दिया.. | POPxo

#MyStory: क्यों मैंने अपने Long-Term रिलेशनशिप में धोखा दिया..

Anonymous

Guest Contributor

अपने boyfriend को cheat करना एक गुनाह माना जाता है इसलिए ये कहानी लिखते हुए मुझे थोड़ी सी झिझक महसूस हो रही है। क्या मैं पढ़ने वाले के सामने अपनी आत्मा खोल कर रख दूं और फिर भी इज़्ज़त मिलने की उम्मीद करुं? पता नहीं। पर मेरे जैसे लेखक आए और गए, लिखा और शर्मिंदा भी हुए,तो मैं कहती हूं क्यों नहीं। तो मैं ये आप पर छोड़ती हूं, फैसला करिए…

मैं अपने boyfriend से तब मिली जब वो कविताएं लिखता था। एक कवि की ज़िंदगी जुनून, टूटे दिल और अधूरे प्यार की भावनाओं से भरी होती है और हमारी प्रेम कहानी भी इन सबके flavor के साथ शुरु हुई। उसने कुछ समय पहले ही एक लड़की का दिल तोड़ा था और मेरा भी किसी ने तोड़ा था। ...और अब शायद मैं बदले में किसी का तोड़ना चाहती थी।

मुझे लगता है मैं प्यार में तब पड़ी जब हम वीकेंड पर camping करने गए थे। दुनिया से दूर, एक दूसरे के साथ कुछ वक्त बिताने के लिए हमने countryside का रुख किया। सब कुछ पीला-हरा और खाली-सा नज़र आ रहा था। हमने तारों की छाओं के नीचे kiss किया, कुछ intimate पल बिताए और हमेशा साथ रहने का वादा किया। ये मेरी ज़िंदगी का सबसे अच्छा वक्त था- प्यार लुटाने का और पाने का।

कुछ महीने के बाद मैं अपने बहुत पुराने दोस्त करण के साथ कॉफी पी रही थी।

"और तुम्हारी love life कैसी चल रही है?" उसने बातें करते हुए पूछा।

"बढ़िया। तेजस और मैं बहुत खुश हैं साथ में।" मैंने कहा, "तुम्हारी कैसी चल रही है?"

"बुरी। मेरा अभी break-up हुआ है।"

"Oh No!! क्या हुआ?" मैंने पूछा। मुझे पता था कि वो कितने close और serious थे । अभी करण को बहुत hurt फील हो रहा होगा।

I-cheated, #MyStory: क्यों मैंने अपने Long-Term रिलेशनशिप में धोखा दिया.. | POPxo, रिलेशनशिप

"पता नहीं। पर वो मुझसे बहुत दूर होती जा रही थी और जब भी मैं उससे पूछता तो कहती कि मैं बहुत चिंता करता हूं ...और हम बहुत कम मिलने लगे.. हमारे झगड़े होने लगे..."

"ओह"

"हां....और एक दिन हमने मिलना बिल्कुल बंद कर दिया। मुझे बाद में पता चला कि वो किसी और लड़के के साथ है।"

"और वो कौन है?"

"उसके साथ काम करता है।" करण ने कहा। उस पल वो इतना दुखी था कि मेरा दिल बस वहीं रह गया। मुझे पता था कि ये रिलेशनशिप उसके लिए कितना मायने रखता था। मैंने emotionally अपना हाथ उसके हाथ पर रखा। और फिर हम दोनों ने अपना हाथ वहीं रहने दिया और एक दूसरे की उंगलियों को छेड़ते रहे। मुझे पता चल गया था कि हमारे बीच कुछ बदल चुका है..।

मैं करण को कब से जानती थी? बारह...या शायद पंद्रह साल.. और हमने साथ ही बहुत कुछ देखा है...सब शेयर किया है...एक दूसरे की खुशी, दुख और सफलताएं....।

"तुम कहीं और जाना चाहोगी?" उसने पूछा।

"ज़रूर", शायद मुझे पता था कि उसके दिमाग में क्या चल रहा है पर मैं उसके अकेलेपन के बारे में भी सोच रही थी और ये चीज़ भी कि उसके पास और कोई नहीं है ये शेयर करने के लिए। ऐसा break-up एक बहुत बड़ा खालीपन छोड़ जाता है। यही उसके साथ हुआ था।

हम उसके घर गए और बातें करने लगे...उसके रिलेशनशिप के बारे में, उसकी feelings के बारे में, पुराने वक्त के बारे में....और तभी...हमने kiss किया।

"हम एक दूसरे को कबसे जानते हैं?" उसने फिर मुझसे पूछा।

"कईं सालों से..." मैंने कहा।

"तो फिर मुझे लगता है कि सेक्स जैसी नॉर्मल-सी चीज़ की वजह से हमारे बीच कुछ बदलेगा नहीं...."
नॉर्मल? मैंने सोचा। क्या सेक्स सच में नॉर्मल-सी चीज़ है? क्या ये किसी को बहुत special तरीके से जानने का मौका नहीं है क्योंकि ये एक intimate पल होता है?

पर मैंने ये उससे नहीं कहा क्योंकि इस वक्त उसकी ज़रुरत ज़्यादा मायने रखती थी...और ये ज़रुरत थी उसे comfort देने की। और मैं जानती थी इस वक्त सिर्फ सेक्स ही उसे comfort दे सकता था। बस एक casual-सा सेक्स, एक पुराने दोस्त के साथ की warmth । इसलिए वो रात हमने साथ बिताई थी। मैं उसके personal challenges या रिलेशनशिप troubles को दूर तो नहीं कर सकती थी पर उस पल में जो सहारा एक casual सेक्स से दे सकता था वही एक दोस्त के रूप में मेरा रोल था।

जब मैंने बाद में इसके बारे में सोचा, तो फैसला नहीं कर पाई की तेजस को बताऊं या नहीं। पर जब actually सोचा तो ये मेरे रिलेशनशिप में काफी irrelevant लगा। करण के साथ सेक्स के बारे में बताना ऐसा था जैसे ये कहना कि मैंने सुबह उठकर shower लिया। मतलब point क्या था? नॉर्मल, नॉर्मल… बार बार यहीं शब्द मेरे दिमाग में आता रहा। सेक्स कितना नॉर्मल है?? ये भी एक फनी-सा सवाल है।

अब जब मैंने आपको अपनी एक amazingly “immoral” कहानी बता दी है, तो आप मुझे judge कर सकते हैं...आप करेंगे ही और करना भी चाहिए। पर हां एक बात याद रखना कि ज़िंदगी surprises से भरी पड़ी है- सामने वाला किस situation में होगा ये आप नहीं जानते और क्या पता एक दिन आप भी मेरे जैसी ही situation में हों। और सोचिए, तब आप कैसे choose करेंगे?

image : shutterstock

ये भी पढ़ें : #MyStory: उसे खो कर मैंने खुद को वापस पाया…

ये भी पढ़ें : #MyStory: और मैं अनजाने में ही किसी की Girlfriend बन गई
Published on Apr 28, 2016
home messages notifications search hamburger menu
POPxo uses cookies to ensure you get the best experience on our website More info

Discuss things safely!

Sign in to POPxo World

India’s largest platform for women

Start a poll Ask a question