क्यों होते हैं स्ट्रेच मार्क्स और कैसे पाएं इनसे छुटकारा | POPxo
Pia
cross
Book a cab
Order food
View your horoscope
Gulabo - your period tracker
Show latest feed
Filter Icon   I want to see...
Filter Icon   I want to see...
Select your filters
Clear all filters
×
Categories
  • All
  • fashion
  • beauty
  • wedding
  • lifestyle
  • food
  • relationships
  • work
  • random
  • sex
  • hindi
Quick Actions
  • All
  • story
  • video
  • shop
  • question
  • poll
  • meme
Apply
Home > Beauty > Skin Care Tips
क्यों होते हैं स्ट्रेच मार्क्स और कैसे पाएं इनसे छुटकारा

क्यों होते हैं स्ट्रेच मार्क्स और कैसे पाएं इनसे छुटकारा

आजकल की भाग-दौड़ भरी ज़िंदगी में आपके पास अपने ऊपर ध्यान देने का समय बहुत कम होता है। फिर भी सही दीवा की तरह आप सब कुछ मैनेज कर ही लेती हैं! लेकिन एक समस्या है जिससे कई महिलाओं का सामना होता है, और वो है “स्ट्रेच मार्क्स” ☹ और ये मार्क्स जितनी आसानी से आते हैं, उतनी आसानी से जाते नहीं हैं। इसकी वजह से कई बार आप बुरा भी महसूस करती हैं।

क्यों होते हैं ये स्ट्रेच मार्क्स?

जब स्किन स्ट्रेच होती है तो कोलेजन कमज़ोर हो जाता है, जिससे उसकी जनरल प्रोडक्शन साइकिल डिस्टर्ब हो जाता है और उसको नुकसान पहुंचता है। इस कारण आपकी त्वचा के ठीक नीचे की परत में स्कार्स यानि निशान बन जाते हैं, जो शुरू में गुलाबी या लाल-से लगते हैं और कुछ समय बाद ये सिल्वर या सफ़ेद लाइन में तब्दील हो जाते हैं। यानी स्किन अगर उसकी फ्लेक्सिबिलिटी से ज़्यादा खिंच जाती है तो ये निशान हो जाते हैं। इन्हे स्ट्रेच मार्क्स कहते है। ये अधिकतर थाईज़, हिप्स, लोअर बैक, ब्रैस्ट्स पर पाये जाते हैं। स्ट्रेच मार्क्स अधिकतर प्रेगनेंसी के दौरान होते हैं, लेकिन इसके दूसरे कारण भी हो सकते हैं – जैसे एकदम से वज़न बढ़ जाना या कम हो जाना, जेनेरिक या हेरिडिटी, हॉरमोन रिप्लेसमेंट थेरेपी, इत्यादि। अगर स्ट्रेच मार्क्स का ट्रीटमेंट समय रहते नहीं किया जाए तो इनसे छुटकारा पाना बहुत मुश्किल हो जाता है। आज हम आपको कुछ ऐसे ही घरेलू और आसान उपाय बताएंगे, जो आपको इस समस्या से निज़ात दिलाने में कारगर हैं!

1. इलाज घर में ही है

ये आसान से घरेलू और नेचुरल टिप्स जिन्हें नियमित टॉय करने पर स्ट्रेच मार्क्स की छुट्टी हो जाएगी।
एलो वेरा का कमाल इसके काल्मिंग और हीलिंग गुणों के कारण ये हर तरह की स्किन की समस्या के लिए बहुत फायदेमंद है। आपको बस एलो वेरा जेल को अपने प्रो एरिया पर रब करना है और 15-30 मिनट बाद उसे गुनगुने पानी से धो लें। आप चाहें तो इसमें विटामिन-E कैप्सूल का तेल भी मिला कर लगा सकती हैं। इसे रोज़ाना इस्तेमाल करें। यम्मी कोको बटर streach marks-coco butter ये स्किन के लिए बहुत ही हाइड्रेटिंग और नरिशिंग होता है, इसके साथ ही ये झुर्रियों और उम्र बढ़ने के सिग्नस को भी दूर रखता है। स्ट्रेच मार्क्स वाले एरिया पर रोज़ाना इसकी दिन में दो बार मसाज करें। 1-2 महीने में आपको फ़र्क नज़र आने लगेगा। जादूई जूस - आलू का जूस – ये ऐसे विटामिन और मिनरल्स से भरपूर होता है जो हमारे स्किन सेल्स की ग्रोथ और उनकी देखरेख का काम करते हैं, इसलिए ये इन मार्क्स का पर्फेक्ट इलाज़ है। एक आलू के मोटे स्लाइस काटें और उन्हें प्रॉब्लम एरिया पर तब तक रब करें जब तक वो एरिया आलू के स्टार्च से पूरा कवर न हो जाये। जब जूस सूख जाये तब उसे गुनगुने पानी से धो लें।
- नींबू का जूस –  ये सिट्रिक एसिड से भरपूर होता है और इसलिए स्किन के दाग-धब्बों के लिए बड़ा कारगर इलाज़ है। नींबू के रस को स्ट्रेच मार्क्स वाले एरिया पर सर्कुलर मोशन में रब करें। इसे 10-15 मिनट बाद हल्के गर्म पानी से धो लें। आप चाहें तो इसमें 1-2 बूंद ग्लिसरीन की मिला कर भी इस्तेमाल कर सकती हैं। असरदार तेल streach marks-oil - जैतून का तेल – यानि ऑलिव ऑइल में एंटीऑक्सीडेंट होते हैं और इसकी मसाज ब्लड फ्लो को सुधारती है। इसलिए तेल को हल्का-सा गर्म करके उसकी मसाज करें। नियमित ऐसा करने से स्ट्रेच मार्क्स हल्के होने लगेंगे। - कास्टर ऑयल – ये स्किन के लिए वरदान है और इसलिए कई तरह की स्किन प्रॉब्लम्स में इसका इस्तेमाल किया जाता है। स्ट्रेच मार्क्स वाले एरिया पर तेल की हल्के हाथों से सर्कुलर मोशन में, 5-10 मिनट मसाज करें। इसके बाद उस जगह को साफ पतले कॉटन के कपड़े से बाँध दें। फिर गरम पानी की बॉटल वहां रख कर, कम कम से कम आधे घंटे तक उस जगह को हीट देते रहें। इसे रोज़ाना एक बार करें। महीने भर में आपको नतीजे दिखने लगेंगे।
लाजवाब अंडे का व्हाइट ये प्रोटीन और अमीनो एसिड्स का भंडार होते हैं, जो हमारे और हमारी स्किन के लिए बेहद ज़रूरी होते हैं। अंडा व्हाइट को अच्छे से फेट लें। मार्क्स वाले एरिया को साफ करें और वह फेटे हुए अंडा व्हाइट की मोटी लेयर लगा दें – इसके लिए आप ब्रश का इस्तेमाल कर सकती हैं। जब वो पूरी तरह से सूख जाए तो उसे ठंडे पानी से धो लें। इसके बाद वहां पर ऑलिव ऑयल या कोई भी हैवी मॉइश्चराइजिंग क्रीम लगाएं। ये काम रोज़ाना करें, कुछ ही हफ़्तों में आपको फर्क ज़रूर नज़र आयेगा! एक बात का हमेशा ख्याल रखें कि आपकी त्वचा हमेशा मॉइश्चराइज़्ड व हाइड्रेटेड रहे।

2. पानी पानी रे...

streach marks-water अगर आपकी स्किन हाइड्रेट नहीं होगी तो कोई भी इलाज़ या नुस्खा काम नहीं करेगा! क्योंकि पानी स्किन तो हाइड्रेट करने के साथ ही उसे डेटोक्सिफाय भी करता है और उसकी खोई हुई इलास्टिसिटी को भी लौटाता है इसलिए दिन में कम से कम 8-10 ग्लास पानी ज़रूर पीजिये।

3. अच्छी डाइट भी है ज़रूरी  

आप अगर सही डाइट नहीं ले रही हैं तो सिर्फ पानी पीने से स्ट्रेच मार्क्स ठीक नहीं होंगे, क्योंकि आपकी बॉडी में न्यूट्रिएंट्स यानि पोषक तत्वों की कमी हो जायेगी। इसलिए अपनी डाइट में बहुत-सा प्रोटीन (फिश, दही, नट्स etc), विटामिन-C (आंवला, हरी सब्जियां etc) और विटामिन-E (कैल, पालक, पपीता, कीवी, इत्यादि) वाला खाना शामिल करें।
प्रेगनेंसी के दौरान ऐसे सीड्स और नट्स खाती रहें जो मिनरल से भरपूर हों, खासकर ज़िंक से भरपूर हों। ये आपकी स्किन को टोन करेंगे।

4. नियमित कसरत का हो साथ!

नियमित कसरत से आपकी मांसपेशियां टोन होती हैं और स्ट्रेच मार्क्स अपने आप हट जाते हैं। इसलिए रोज़ाना नहीं तो हफ्ते में कम से कम चार दिन कोई भी कसरत (जैसे एब्स, सिटप, योगा, स्विमिंग, इत्यादि) ज़रूर करें।

5. ट्रीटमेंट

streach marks-treatment इनसे छुटकारा पाने के लिए और भी विकल्प मौजूद हैं, लेकिन वो कितने असरदार होते हैं इसकी कोई गारंटी नहीं है। जिन लोगों के मार्क्स बहुत पुराने होते हैं वो कई बार सर्जिकल ट्रीटमेंट जैसे फ्रेक्शनल ट्रीटमेंट भी करवाते हैं – लेकिन इसके साइड इफेक्ट होते हैं जैसे हाइपरपिगमेंटेशन, स्कारिंग आदि। इसी तरह के कई और ट्रीटमेंट्स भी लोग करवाते हैं। इसके अलावा कई तरह की क्रीम्स, लोशन, तेल वगैरह भी आते हैं – जैसे “स्ट्रेच मार्क्स के लिए बायो आयल तो लेडीज़, सही लाइफस्टाइल के साथ ये आसान से तरीके नियमित रूप आज़माएं और इन जिद्दी मार्क्स को हमेशा के लिए बायबाय कहें!! ☺
Images: shutterstock.com यह भी पढ़ें: Red Alert! इन 9 cases में ज़रूर मिलें अपने dermatologist से यह भी पढ़ें: #GoodbyeScars: मुहांसे या चोट के दाग जाएंगे अब चुटकी में!
Published on Jan 14, 2016
Like button
Like
Save Button Save
Share Button
Share
Read More

Your Feed