दिल्ली मेट्रो में सफर करती हैं? ये 10 बातें आपको हंसा देंगी!  | POPxo

दिल्ली मेट्रो में सफर करती हैं? ये 10 बातें आपको हंसा देंगी!

Riwa Singh

Writer, Hindi, POPxo

अगर आप दिल्ली में रहती हैं या कभी भी दिल्ली आई हैं तो आप ये मानती होंगी कि मेट्रो ट्रेन्स दिल्ली की लाइफ़लाइन बन गई हैं। दिल्ली वाले हर रोज़ इस मेट्रो से अपनी ज़िंदगी का सफ़र तय करते हैं। तो दिल्ली मेट्रो में रोज़ सफ़र करने वाले क्या महसूस करते हैं, हम बताते हैं।

1. सीट का ख्याल तो दिमाग में लाना ही मत


खड़े होने की जगह मिल जाए वही काफ़ी है।

1

2. घर से ऑफिस एक घंटे की दूरी पर है.. 40 मिनट मेट्रो में लगते हैं


पर पूरे ट्रैवेल में डेढ़ घंटे भी लग सकते हैं - भीड़ ज़िंदाबाद! क्योंकि पहली मेट्रो में आपकी एंट्री हो जाए ऐसा कहीं नहीं लिखा। :D

3. अगर आप रोज़ लाइन चेंज करती हैं तो..


आप भी शौर्य चक्र deserve करती हैं। स्पेशियली तब अगर आपको राजीव चौक पर लाइन चेंज करनी पड़ती है.. ट्रेन सामने खड़ी हो और बाहर कुंभ के मेले जैसी भीड़ हो तो ट्रेन के दरवाज़े तक पहुंचना भी कितना सुख देता है! लगता है, अगली तो मिल ही जाएगी।

3

4. एक जाती है तो दूसरी आती है..


इश्क मूवी का ये डायलॉग रेलवे ट्रेन से ज्यादा मेट्रो ट्रेन पर सूट करता है। :D

4

5. पर वो भी सामने से चली जाती है.. :(


क्योंकि आप धक्का-मुक्की भरे कॉम्पटीशन में अक्सर हार जाती हैं।

5

6. आप घर से आलिया भट्ट बन कर निकलती हैं


और कॉलेज या ऑफिस पहुंचते-पहुंचते किसी हॉरर फिल्म का कैरेक्टर नज़र आती हैं...रास्ते में आपके बाल और आपके ड्रेसिंग स्टाइल का कोरमा बन जाता है।

6

7. ऑफिस में सीट पर बैठने से पहले वॉशरुम


क्योंकि अगर आपने अपना हुलिया ठीक नहीं किया तो शायद ऑफिस वाले आपको पहचानें भी नहीं!! इसलिए मेट्रो ने जो हुलिया बिगाड़ा है उसे ठीक करना ज्यादा ज़रूरी है।

8. Mind the gap! सच में?


ये सिर्फ़ announcement में ही चलता है.. मेट्रो में किसका हाथ कहां जाता है पता ही नहीं चलता। और आपका बैग भी आपके साथ एंट्री लेगा इसकी कोई गारंटी नहीं है। Gap के नाम पर अगर 1 इंच भी स्पेस हो तो लोग शिफ्ट करते हुए यही दलील देते हैं कि - कितना सारा स्पेस है!!

7

9. मेट्रो ट्रेन अगर रेलवे ट्रेन होती तो?


ट्रेन में घुसते वक्त जितना धक्का लगता है उतने में तो एक गेट से घुस कर सामने वाले गेट से बाहर निकल जाते!! शुक्र है मैट्रो में एक बार में एक ही साइड का गेट खुलता है!

10. लोगों की बातें.. उफ़्फ!!


भीड़ चाहें जितनी भी हो, पर लोग थोड़ी देर में अपने फॉर्म में आ ही जाते हैं। वहां भी उनकी बातें खत्म होने का नाम नहीं लेतीं। जहां सांस लेने की भी जगह न हो वहां लोग अपने वीकेंड का प्लान डिसकस करने लगते हैं।

9

GIFs: tumblr.com

यह भी पढें: मेट्रो सिटी में ये 8 बातें मिस करती हैं ‘Small Town Girls’ !

यह भी पढें: लोग सुनाते हैं ये 8 बातें अगर आप ‘Arts’ चुनती हैं
Published on Jan 19, 2016
home messages notifications search hamburger menu
POPxo uses cookies to ensure you get the best experience on our website More info

Just Another Step!

SIGN IN TO POPxo WORLD

to see what other girls are talking about