Indian Train के हर सफर में मिलते ही हैं ये 11 तरह के लोग | POPxo

Indian Train के हर सफर में मिलते ही हैं ये 11 तरह के लोग

Riwa Singh

Writer, Hindi, POPxo

हिंदुस्तान में रहकर आप ने ट्रेन में सफ़र न किया हो ये सोचना भी अजीब लगता है। ट्रेन का सफर अपने आप में बहुत अलग और अनोखा होता है। आप उन लोगों के साथ लम्बा वक्त बिताती हैं जिन्हें आप जानती भी नहीं.. और कई बार इसी सफर में नए दोस्त मिल जाते हैं। और अगर आप लकी हैं तो कभी-कभी इसी सफर में आपको अपना हमसफर भी मिल ही जाता है….कम से कम हमारी बॉलीवुड फिल्मों से तो ऐसा ही लगता है! ख़ैर, इन सबके अलावा भी आपको इसी ट्रेन में कई अजीब लोग भी मिलते हैं जिन्हें देखकर लगता है कि सच में दुनिया varieties से भरी पड़ी है। तो ज़रा नज़र डालिए इस लिस्ट पर और सोचिए आपका सामना इनमें से कितनों से हुआ है।

1. वो सीनियर सिटिज़ेन


जो अगर चुप रहे तब तो ठीक है नहीं तो 14 घंटे के सफर में आपको पूरा moral science पढ़ा कर ही दम लेंगे।

1

2. वो बातूनी आंटी


हम मानते हैं कि सफर में सबके साथ friendly behave करना चाहिए लेकिन अगर कोई है जो सच्चे दिल से उसे फॉलो करता है तो वो ये आंटी हैं। इनकी बातें खत्म ही नहीं होतीं। आपको कहां जाना है से लेकर पढ़ती हो या जॉब करती हो.. तक इनकी कहानी चलती जाती है।

2

3. एक बिंदास गैंग


जिन्हें कोई फ़र्क नहीं पड़ता कि कोई disturb भी हो सकता है। वो रात भर बातें करते हैं.. जोक्स crack करते हैं, कमेंटबाज़ी करते हैं और फुल-टू मस्ती करते हैं। आप सो पाएं या नहीं ये उनका concern नहीं होता। अगर किसी ने उन्हें मना किया तो थोड़ी देर के लिए शांत हो जाएंगे और फिर से शुरू हो जाएंगे।

3

4. वो छोटा बच्चा


जिसे लेकर न सिर्फ़ उसकी फैमिली बल्कि दूसरे लोग भी परेशान हो जाते हैं। उस फैमिली से 10 berth आगे भी लोगों को पता होता है कि उधर कोई बच्चा है। कभी रोना कभी उसकी फरमाइश.. ये सब चलता रहता है।

tumblr_lxkrxecRAO1r6yhjeo1_500

5. वो बैचलर लड़का


जो आप में कुछ ज्यादा ही इंट्रेस्ट लेता है और अगर वो आपको भी अच्छा लगा तब तो ठीक है। अगर नहीं लगा तो लगता है - क्या करूं मैं इसका! :-/

tumblr_mrk9jlbP7D1sr38zho1_500

 

6. वो अंकल


जो रास्ते भर अपने बेटे और उसके करियर की तारीफ़ करते रहते हैं। उन्हें सुनकर लगता है - कुछ ज्यादा ही satisfied हैं ये अपने बच्चे से। एक हमारे पैरेंट्स हैं.. बुराई करने से ही फ़ुर्सत नहीं मिलती, ढ़ूंढ़ ही लेते हैं कुछ न कुछ।

6

7. वो लड़की


जिसकी हरकतें देखकर लगता है कि रिलेशनशिप में है.. लगातार फोन पर लगी होगी। सब रात में सो भी गए तो भी वो लेटे-लेटे फोन पर भुनभुनाती रहती है।

7

8. कुछ स्पेशल वक्ता


देश और राजनीति में क्या हो रहा है और क्या होना चाहिए इस पर विचार करने का इससे अच्छा समय और इससे सही जगह नहीं मिलती उन्हें। कुछ लोग मिलकर पूरा टॉक-शो तैयार कर लेते हैं।

tumblr_mwl1awPpV41sem4bxo1_500

9. खाना ही जिंदगी है


कोई स्टेशन आया नहीं कि इन्हें कुछ न कुछ खाने को चाहिए...या फिर ट्रेन में ही कुछ बेचने वाला आ गया तो बोनी कराने की जिम्मेदारी इन्हीं की है। और कुछ नहीं तो चाय तो चलेगी ही... छोले-पूरी, समोसा से लेकर दाल-मोठ, फ्रूट चाट..इन्हें सब चाहिए!

10. रेलवे की किताब हैं ये


ट्रेन चार्ट या ट्रेन के टाइम टेबल के बारे में जानना हो तो आपको किसी किताब की जरूरत नहीं...ये चलते फिरते टाइम टेबल हैं...ट्रेन पैसेंजर हो या राजधानी, किस स्टेशन के बाद कौन सा स्टेशन आएगा इन्हें जुबानी याद है।

11. अरे ये तो अपने ही हैं


ये कुछ अलग टाइप के होते हैं..ट्रेन में बैठते ही इनकी खोज शुरू हो जाती है अपने ‘इलाके’ के लोगों को ढूंढने की….आप कहां से हैं, कहां रहते हैं, जिला कौन सा है..वगैरह वगैरह से सवाल शुरू होते हैं और तब तक चलते हैं जब तक कोई अपनी ‘तरफ’  का न मिल जाए..मिल जाए तो फिर तो कहना ही क्या!

5 (1)

GIFs: tumblr.com
Published on Nov 19, 2015
home messages notifications search hamburger menu
POPxo uses cookies to ensure you get the best experience on our website More info

Just Another Step!

SIGN IN TO POPxo WORLD

to see what other girls are talking about