गरमा-गरम पकौड़े और इन 12 चीज़ों का मज़ा मॉनसून में ही है | POPxo

गरमा-गरम पकौड़े और इन 12 चीज़ों का मज़ा मॉनसून में ही है

Riwa Singh

Writer, Hindi, POPxo

चिलचिलाती धूप की सुबह और तपती धरती की शाम हमारी बची-खुची एनर्जी भी ले जाती है। ऐसे में न सिर्फ़ हमें, बल्कि प्रकृति को भी मॉनसून का इंतज़ार रहता है। मॉनसून अपने आप में सुकून का एहसास है, ऐसा एहसास जिसे पाने के लिए आपको अलग से कुछ करने की ज़रूरत नहीं। बहुत-सी चीज़े हैं जो आप वैसे तो कभी भी कर सकते हैं(ज़ाहिर है, आप अपनी मर्ज़ी की मालिक हैं) पर उनका असली मज़ा मॉनसून में ही है। हम आपको उन्हीं चीज़ों के बारे में बता रहे हैं।

1. सब धुल गया!


बारिश के बाद सब कुछ धुला-धुला सा लगता है। बरसात की बूंदें सभी को नहलाकर ही दम लेती हैं और उसके बाद धुंए का कोहरा भी गायब हो जाता है जिससे हमें मिलता है साफ़ खुला आसमान और ताज़ी स्वच्छंद हवा। यानी कुछ समय के लिए ही सही लेकिन pollution से मिला छुटकारा और सब कुछ हो गया नया जैसा!! सचमुच कितना अच्छा लगता है न! सबकुछ एक-सा देखकर!

Point no. 1

2. मिट्टी की वो खुशबू


मिट्टी की वो सोंधी महक, आह! पर बिना बारिश के आपको ये नहीं मिलने वाली। बूंदों के ज़मीन को छूने के साथ ही मिट्टी की खुशबू हमें एहसास दिलाती है कि अब भी हम में nature ज़िंदा है और इससे खूबसूरत कुछ भी नहीं। पेड़ों के बीच से आसमान में इंद्रधनुष को देखना एक अनोखा अनुभव है जो हमें सतरंगी सपनों की दुनिया में ले जाता है।

Point no. 3 (monsoon)

3. बारिश में भीगना, नहाना और घुल जाना


बारिश का असली मज़ा इसमें नहाए बिना कहां लिया जा सकता है। बारिश में छत पर या गार्डन में शावर लेकर मॉनसून में सराबोर होना कितना एक्साइटिंग है न। ऐसे में कौन होगा जो खुद को भीगने से रोक पाएगा? बाद में भले ही छींक से हमारा हाल बेहाल हो जाए और घरवालों की डांट पड़े पर उस वक्त नो कॉम्प्रोमाइज़!

Point no. 4...

4. diet जाओ भूल, कुछ चटपटा हो जाए!


इसके लिए अलग से कुछ भी बताने की ज़रूरत नहीं, बिना चाट-पकौड़ों के बारिश अधूरी-सी लगती है। मज़ा तो तभी है जब घर के ओपन स्पेस में शेड के नीचे बूंदों का करिश्मा देखते हुए स्नैक्स का आनंद लिया जाए। डाइट पर आज नहीं, कल बात करते हैं और फिगर की टेंशन? अभी नहीं..आज तो सब कुछ भुलाकर चटपटे स्वाद का मज़ा लेना ही ज़िंदगी है।

Snacks

5. मसालेदार चाय


समोसे-पकौड़े के साथ अगर इलाइची फ्लेवर्ड मसालेदार चाय मिल जाए तो बात बन जाए। गर्मियों में चाय पर कभी इतना प्यार नहीं आया होगा आपको। वैसे भी बारिश में भीगने के बाद अदरक और इलाइची वाली चाय खूब भाती है।

Tea

6. आज कहीं..बंद कमरे से बाहर


बारिश का मतलब ये बिल्कुल नहीं है दोस्त कि आप खुद को कमरे में बंद कर, खिड़कियों से बूंदों का वेलकम करें। अगर आप थर्माकॉल के नहीं बने, तो आप भी बाहर घूम सकते हैं। गर्मियों में शायद घर से बाहर निकलने का आपका बिल्कुल मन न हो, पर बारिश में आप आज़ाद हैं। सोचिए, कितना अच्छा हो अगर आप अपने फ्रेंड्स के साथ बाहर हों और बारिश हो जाए? कभी कभी एक अनोखे रिलेशनशिप की शुरुआत भी ऐसे ही होती है (अब मान भी लीजिए!) ;)

Point no. 6...

7. थोड़ा-सा 'रोमानी' हो जाएं


मॉनसून का दूसरा नाम ही रोमांस है, बारिश पूरे माहौल में प्यार-इश्क-मोहब्बत घोल देती है। क्या आप इस मौसम में अपने प्रिंस को मिस नहीं करतीं? (झूठ न बोलना!) सावन को हमारे बॉलीवुड ने भी बखूबी पेश किया है, इससे ही कुछ सबक लीजिए। टिप-टिप बरसा पानी...टाइप।

Point no. 7

8. वो सदाबहार गाने


फिल्मी-रोमांटिक गाने आपको मद्होश कर दूसरी दुनिया में ले जाते हैं और आप बारिश की हर बूंद सुकून से जीती हैं। वैसे शायद आपको गाने कम पसंद हों, पर बारिश में डम-डम डिगा-डिगा और हाय-हाय ये मजबूरी..आप भी गुनगुनाती हैं, है न..? गाने नए हो या पुराने...बारिश के गानों की डिमांड तो इसी मौसम में पता चलती है।

9. बूंदे पड़ते ही जाग जाता है अंदर का artist


बारिश में हम positive होते हैं और मौसमी-मिजाज़ के साथ खुद को वक्त देना पसंद करते हैं। अगर आप लिखने, गाने या musical instrument बजाने की शौकीन हैं तो आप इस मौसम को एंजॉय करने वाली हैं। आपको कुछ नहीं भी आता तो भी कुछ क्रिएटिव करने का मन बन ही जाता है। फिर चाहे वो किचन में कोई नई डिश ट्राय करना हो या किसी नए तरह के पकौड़े ...!

Point no. artist

10. इस पल को कैमरे में कैद कर लें


बारिश में सब कुछ खूबसूरत लगता है या यूं कहें कि बूंदों के स्पर्श के साथ ही सब कुछ रोमांटिक हो जाता है, ऐसे में मुझे नहीं लगता फोटोग्राफी के शौकीन लोग इन पलों को कैमरे में कैद करने से खुद को रोक पाएंगे। अगर आपको फोटोग्राफी न आती हो तो भी बच्चों को मस्ती करते देखकर आप भी अपना मोबाइल निकालकर क्लिक कर ही लेती हैं। इस मौसम में हर कोई फोटोग्राफ़र बन जाता है।

Photography

11. वाटरप्रूफ है तो फील करो!


आपका बैग या मोबाइल फोन या मेकअप (जैसे काजल, लाइनर) वाटरप्रूफ हो या नहीं, आपको दूसरे मौसम में कोई फ़र्क नहीं पड़ता पर इस वक्त आप बेफिक्र महसूस करती हैं क्योंकि आपके बैग में रखी चीज़ें नहीं भीगने वाली और न ही आपका काजल आपके चेहरे पर फैलेगा।

12. Flotter फुटवियर्स


forget heels and wedges...ज़ाहिर है आप इस मौसम में इन फुटवियर्स से किनारा कर लेंगी क्योंकि आप नहीं चाहतीं कि वो सब खराब हों, तो अब बारी है फ्लॉटर्स की। इस वक्त आप flotters में भी खुद को rocking और stylish फील करेंगी।

13. अालस और निराले सपने


बारिश हमें इतना खुश कर देती है कि हमें कुछ भी करने का मन नहीं होता। हम एक जगह बैठे या लेटे हुए अपनी ज़िंदगी के बारे में सोचते हैं, सपने बुनते हैं और उन्हीं सपनों में खो जाते हैं। एक दूसरी दुनिया बना लेते हैं जहां से वापस आने का कभी मन नहीं करता।

Last Point (monsoon)

Images: shutterstock.comgiphy.comtumblr.com
Published on Jul 13, 2015
home messages notifications search hamburger menu
POPxo uses cookies to ensure you get the best experience on our website More info

Just Another Step!

SIGN IN TO POPxo WORLD

to see what other girls are talking about